ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशकेरलखबर 50ट्रेंडिगदिल्ली एनसीआरदेशधर्म/अध्यात्मप्रदेशमध्य प्रदेशमहाराष्ट्रव्यापार

एचडीएफसी ने दिया बड़ा तोफा कर्ज पर ब्याज को 0.20 प्रतिशत घटा दी

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बाद अब निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक एचडीएफसी ने कर्ज पर ब्याज 0.20 प्रतिशत घटा दी है. कर्ज की लागत कम होने के साथ बैंक ने ब्याज दर कम की है. इसके साथ ही अब पैसे के लिए आपको एटीएम मशीन जाने की जरूरत नहीं है. घर के बाहर ही ये सुविधा मिल जाएगी.बैंक की वेबसाइट के अनुसार मंगलवार से सभी अवधि के कर्ज के लिये कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दर की समीक्षा की गई है. इस संशोधन के बाद एक दिन के लिए एमसीएलआर 7.60 प्रतिशत जबकि एक साल के कर्ज के लिए 7.95 प्रतिशत होगी. ज्यादातर कर्ज एक साल की एमसीएलआर से संबद्ध होते हैं. तीन साल के कर्ज पर एमसीएलआर 8.15 प्रतिशत होगी. नई दरें सात अप्रैल से प्रभावी हो गई हैं.बता दें SBI ने भी लोन सस्ता कर दिया है, लेकिन जमा पर ब्याज में भी कटौती कर दी है. स्टेट बैंक ने मंगलवार को 10 अप्रैल से सभी अवधि के ऋणों पर कोष की सीमांत लागत आधारित ऋण ब्याज दर में 0.35 प्रतिशत कटौती करने की घोषणा की. साथ ही बैंक ने बचत खाता जमा पर भी ब्याज दर को 0.25 प्रतिशत घटाकर 2.75 प्रतिशत कर दिया है.

बैंक ने एक बयान में कहा कि एमसीएलआर में कटौती के बाद एक वर्ष की अवधि के ऋण पर ब्याज दर 7.75 प्रतिशत से घटकर 7.40 प्रतिशत वार्षिक हो जाएगी. अधिकांश खुदरा ऋणों के लिए 1 वर्ष की अवधि के कर्ज पर दर को पैमाना माना जाता है. बैंक ने कहा कि इससे 30 वर्ष की अवधि वाले आवास ऋण की मासिक किस्त प्रति 1 लाख रुपये कर्ज पर 24 रुपये कम हो जाएगी. इसके साथ ही बैंक ने बचत खाता जमा पर ब्याज में 25 आधार अंकों की कमी कर दी है जो 15 अप्रैल से प्रभावी होगा. इसके तहत अब बचत खाता जमा पर वर्तमान के 3.0 प्रतिशत के स्थान पर 2.75 प्रतिशत ब्याज मिलेगा.हीं दूसरे तोहफे के तहत एटीएम मशीन की सुविधा आपके घर के बाहर भी रहेगी. एचडीएफसी बैंक ने देशभर में मोबाइल एटीएम की व्यवस्था की है. इस सुविधा से अब ग्राहक अपने दरवाजे पर खड़ी एटीएम वैन से कैश निकालने में सक्षम होंगे. इन एटीएम को कहां रखा जाएगा, इसके बारे में फैसला संबंधित शहरों की नगरपालिका से बातचीत के बाद होगा.

Related Articles

Back to top button