पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी से भिड़े एआईएडीएमके के विधायक

पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी से भिड़े एआईएडीएमके के विधायक

केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी और एआईएडीएमके के विधायक के बीच कहासुनी का वीडियो सामने आया है. इसमें विधायक और उपराज्यपाल बीच बहस हो रही है, जिसमें दोनों एक दूसरे को मंच से जाने के लिए कह रहे हैं. ये बहस मंगलवार को गांधी जयंती के मौके पर पुडुचेरी खुले में शौच मुक्त राज्य घोषित करने का कार्यक्रम के दौरान हुई है.

राज्य के विपक्षी दल एआईएडीएमके के स्थानीय विधायक ए अंबागन भाषण देने मंच पर पहुंचे थे. विधायक जब अपनी बात रख रहे थे, उस दौरान बीच में कथित तौर पर माइक बंद हो गया. विधायक अपने भाषण के दौरान पुडुचेरी प्रशासन की कई मुद्दों पर आलोचना कर रहे थे. इसके बाद विधायक और उपराज्यपाल किरण बेदी के बीच बहस शुरू हो गई

AIADMK विधायक का आरोप है कि जब वह भाषण दे रहे थे तो उस दौरान उनके माइक को जानबूझकर किसी ने बंद करवा दिया. इसी वजह से वह किरण बेदी पर भड़के हुए थे. इसके बाद जब दोनों के बीच बहस हुई तो किरण बेदी ने विधायक को मंच से नीचे उतरने का फरमान सुना दिया.

इसके बाद विधायक ने राज्यपाल को जाने के लिए कहा. इस विवाद के बाद विधायक ने कार्यक्रम का बॉयकॉट किया और मंच से उतरकर बाहर चले गए. मंत्री नमससिवायन ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि जो हुआ वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण था.

कार्यक्रम में विधायक के बोलने का समय निर्धारित नहीं था. खुले में शौच मुक्त राज्य प्रेजेंटेशन प्रोग्राम के खत्म होने के बाद विधायक माइक पर आए और बोलना शुरू कर दिया और उचित समय से आगे बोलते चले गए. किरण बेदी ने ट्वीट करके कहा कि एक विधायक का माइक उस वक्त बंद कर दिया गया, जब वह सम्मानित मंत्रियों की मौजूदगी में अपना भाषण संक्षिप्त करने की गुजारिश के बावजूद बोले चले जा रहे थे. उन्होंने सभी की अपील ठुकरा दी.

किरण बेदी ने कहा कि विधायक को लिखित पर्ची के जरिए संदेश दिया गया कि वो अपनी बात खत्म करें, लेकिन वो रुके नहीं. बेदी ने कहा, मैं इस घटना की अध्यक्षता कर रहा थी, मैंने हस्तक्षेप किया और व्यक्तिगत रूप से फिर से अनुरोध किया. उसने खारिज कर दिया. तब मैंने माइक को बंद करने के लिए कहा.’

उन्होंने कहा कि इसके बाद वह भड़क उठे. ऐसा करते हुए मैं उन्हें पहले भी देख चुकी हूं. पुडुचेरी को ओडीएफ बनाने की दिशा में अच्छा काम करने वालों को सम्मानित करने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था

You Might Also Like