इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का असर घरेलू बाजार में बना हुआ है

इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का असर घरेलू बाजार में बना हुआ है

 इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का असर घरेलू बाजार में बना हुआ है. मंगलवार को लगातार 13वें दिन पेट्रोल और डीजल के भाव में कटौती हुई. दिल्ली में 13वें दिन पेट्रोल के भाव में 21 पैसे और डीजल में 29 पैसे की कमी आई. इस कटौती के बाद पेट्रोल 71.72 और डीजल 66.39 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर आ गया. कोलकातार में मंगलवार को पेट्रोल का दाम 73.75 रुपये लीटर हो गया है. वहीं मुंबई पेट्रोल का भाव 77.29 रुपये लीटर दर्ज किया गया है.

2 मार्च 2018 को 71.75 रुपये था रेट
पिछले कुछ महीनों पर गौर करें तो मंगलवार को पेट्रोल की कीमतें पिछले 9 महीने में सबसे कम हैं. इससे पहले दिल्ली में 2 मार्च 2018 को पेट्रोल 71.75 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर था. इस तरह करीब 9 महीने बाद पेट्रोल का भाव इस स्तर पर आया है. 2 मार्च 2018 को मुंबई में पेट्रोल 79.63 रुपये प्रति लीटर था.

16 मई को 66.57 रुपये था डीजल का रेट
इसी तरह अगर डीजल की कीमतों पर ध्यान दें तो 16 मई 2018 को डीजल के रेट 66.57 रुपये प्रति लीटर थे. करीब साढ़े छह महीने बाद डीजल के दाम 66.39 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर पहुंचे हैं. जानकारों का कहना है अगर कच्चे तेल में और गिरावट आती है तो पेट्रोल 70 रुपये से नीचे जा सकता है. वहीं डीजल के भी 65 रुपये के आसपास बने रहे की उम्मीद है.

दूसरी तरफ तेल उत्पादक देशों के संगठन ओपेक की गुरुवार को बैठने होनी है. ओपेक की बैठक में कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती के संकेत मिल रहे हैं. ऐसे में आने वाला सप्ताह काफी निर्णायक होगा. वहीं रुपया लगातार मजबूत हो रहा है. अब डॉलर के मुकाबले 70 के स्तर पर आ गया है.

You Might Also Like