बुलंदशहर हिंसा: जिन्होंने किया बवाल, उन्होंने ही किए ये वीडियो वायरल

बुलंदशहर हिंसा: जिन्होंने किया बवाल, उन्होंने ही किए ये वीडियो वायरल

बुलंदशहर (Bulandshahr) में गोकशी के बाद हिंसा में लगातार वीडियो वायरल (Video Viral) हो रही हैं। ये वे वीडियो हैं, जो हिंसक भीड़ में मौजूद लोगों ने मोबाइलों से बनाईं। वीडियो के बाद पूरा मामला उलझ गया है। जिस मृतक सुमित को निर्दोष बताया जा रहा था, उसके दोनों हाथ में ईंटें हैं। बजरंग दल जिला संयोजक योगेश राज भीड़ को शांत करता दिख रहा है।

हिंसा से पहले एक भाजपा नेता एसडीएम से कहता दिखाई दे रहा है कि कोतवाल बार-बार गोली मारने की धमकी दे रहा है। एक अन्य वीडियो में कुंदन या कल्लन नामक व्यक्ति द्वारा गोकशी करने जैसी बातें हैं। इस तरह की करीब 20 से ज्यादा वीडियो सोशल मीडिया के जरिये पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों को मिली हैं। पुलिस के जांच अधिकारी अब इन वीडियो को आपस में जोड़कर पूरा घटनाक्रम एक सिरे से देखने की कोशिश में जुटे हैं।

1.05 मिनट की वीडियो की शुरुआत जलती हुई गाड़ी से है जो चिंगरावठी पुलिस चौकी के बाहर खड़ी है। वीडियो बनाने वाला पूछ रहा है कि यह ट्रैक्टर ट्रॉली (जिसमें मांस भरा था) किसकी है? जवाब आया कि महाव के युवक की है। वे भरकर लेकर आए हैं, कुल्लन ने काटी हैं ये। गाली देते हुए…इनने काटी हैं। हालांकि वीडियो में आ रही आवाज बहुत साफ नहीं है। कई लोगों को ये शब्द कुंदन लगता है, कई को कुल्लन और कई को मुल्लन। फिल्म डायरेक्टर विनोद कापड़ी ने इस वीडियो को दो बार ट्वीट किया। कापड़ी ने कहा, कुंदन हो या मुल्लन दोनों को सजा हो।

2.48 मिनट की वीडियो की शुरुआत ओ ना…से शुरू होती है। गाली देकर कहते हैं मार…। गए सब गए। इस वीडियो में एक शख्स के दोनों हाथ में ईंटें हैं, जो सुमित बताया गया है। इसके बाद गाली-गलौज शुरू हो जाती है। भीड़ यह कहती दिख रही है कि मारो…मारो। इसी बीच सुमित को गोली मारने का हल्ला मच जाता है। सब खेत की तरफ दौड़ते हैं। दो-तीन युवक सुमित को घायल अवस्था में पकड़कर खेत से सड़क की तरफ लाते हैं। चिल्ला रहे हैं ‘ओए बाइक ला’। भीड़ एक सिपाही को गाली देते हुए कह रही है…इसने मारी है। सिपाही से बंदूक छीनने को आवाजें लगाई जा रही हैं।

20 सेकेंड की वीडियो में हिंसक भीड़ के हाथों में ईंट-पत्थर और लाठी-डंडे हैं। यह भीड़ पुलिस चौकी पर पथराव कर रही है। मारो..मारो जैसी आवाजें आ रही हैं। पुलिस अंदर चौकी में छिप गई तो भीड़ का गुस्सा चौकी के बाहर खड़े वाहनों पर निकलता है। वाहनों में भीड़ ने खूब तोड़फोड़ की।

1.22 मिनट की वीडियो में हिंसा से पहले लोग जाम लगाए हुए हैं। ट्रैक्टर-ट्रॉली पर खड़े दो-तीन युवा गाय के अवशेष हाथ में उठाकर प्रदर्शित कर रहे हैं। कुछ लोग गाली देते हुए कह रहे हैं…वो बुलंदशहर तीन दिन से बंद है। यहां 10 मिनट जाम नहीं झिल रहा। इसके बाद भीड़ ने भारत माता की जय के नारे लगाए। एक विशेष सम्प्रदाय के खिलाफ खूब नारेबाजी की। एक युवक ने कहा कि बुलंदशहर में इतने लोग (इज्तमा) इकट्ठा हो गए और यहां गोकशी पर कोई नहीं आ रहा।

59 सेकेंड की वीडियो में बजरंगदल जिला संयोजक योगेश राज सहित अन्य लोग हाथ उठाकर भीड़ को शांत होने को बोल रहे हैं। इससे जुड़ी एक अन्य वीडियो में स्याना एसडीएम और भाजयुमो के पूर्व नगराध्यक्ष शिखर अग्रवाल के बीच बातचीत हो रही है। इसमें शिखर एसडीएम से यह कहता दिख रहा है कि …ये कोतवाल हमें गोली क्यों मार रहा है। एसडीएम ने शिखर को शांत करते हुए कहा कि मैं देख लूंगा।

You Might Also Like