प्रियंका गांधी पर विवादित बयान दे बुरे फंसे नीतीश के मंत्री, बिहार में सियासत गरमाई

प्रियंका गांधी पर विवादित बयान दे बुरे फंसे नीतीश के मंत्री, बिहार में सियासत गरमाई

कांग्रेस पार्टी में इसी सप्‍ताह एंट्री करनेवाली ​प्रियंका गांधी पर विवादित बयान देकर सीएम नीतीश कुमार के मंत्री विनोद नारायण झा बुरे फंस गए हैं। उनके विवादित बयान को लेकर बिहार में सियासत तेज है। खासकर राजद और कांग्रेस तो पूरी तरह मंत्री व सरकार पर हमलावर बन गए हैं। मंत्री विनोद नारायण झा के बयान को नेताओं ने घटिया और घिनौना बताया है। हालांकि जदयू ने भी मंत्री के इस बयान की निंदा की है।  

दरअसल बिहार में नेताओं के विवादित बोल कम नहीं हो रहे हैं। इसी कड़ी में नीतीश सरकार में शामिल मंत्री विनोद नारायण झा ने कल पटना में मीडिया से बात करते हुए विवादित बयान दिया था। उन्होंने प्रियंका गांधी को नौसिखुआ बताते हुए कहा था कि सुंदर चेहरा पर वोट नहीं मिलता है। कांग्रेस ने वोट के लिए ही सुंदर चेहरा को उतारा है। इस बयान के बाद बिहार में सियासत तेज हो गई है।

इधर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता व विधान पार्षद प्रेमचंद मिश्रा काफी तेवर में दिखे। उन्होंने मंत्री का नाम लेकर कहा कि विनोद नारायण झा कभी कांग्रेस का ‘पेड स्टाफ’ थे। उन्हें पैसा देकर बहाल किया गया था। उनके जेहन में जरा-सा भी राजीव जी का चेहरा नजर नहीं आया। उन्होंने कहा कि मंत्री का प्रियंका पर दिया गया बयान निहायत ही घटिया है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ऐसे मंत्री को बर्खास्त करें अथवा उन्हें सुरक्षा दें, क्योंकि जनता ऐसे बयान से आक्रोश है। कांग्रेस के कार्यकर्ता भी काफी गुस्से में हैं। ऐसे में उन्हें बाहर निकलने में परेशानी हो सकती है।

इतना ही नहीं, कांग्रेस की विधायक भावना झा भी इसे लेकर काफी गुस्से में दिखीं। उन्होंने कहा कि वे एक महिला विधायक के बारे में कितना घटिया सोचते हैं। उन्होंने कहा कि विनोद नारायण झो को क्षेत्र के विकास से कोई मतलब नहीं रहा है। पहले वे इसी के कारण पंडौल से हारे। दूसरी बार बेनीपट्टी से एक महिला ने ही हराया था। उनको हमने ही चुनाव में पराजित किया था।

दूसरी ओर महागठबंधन में शामिल राजद के नेता भी मंत्री विनोद नारायण झा पर हमलावर बने हुए हैं। राजद प्रवक्ता भाई बीरेंद्र ने कहा कि मंत्री ने प्रियंका गांधी को लेकर काफी घिनौना बयान दिया है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी तो शुरू से महिला विरोधी रही है। खासकर विनोद नारायण झा ने हद ही कर दी। उन्होंने कहा कि ऐसे मंत्री को नीतीश कुमार मंत्रिमंडल से हटाएं। साथ ही मंत्री महिलाओं से माफी मांगें। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि माफी नहीं मांगने की स्थिति में महिलाएं मंत्री विनोद नारायण झा के खिलाफ आंदोलन करें। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि मंत्री को चाहिए था कि बयान देने के पहले वे अपनी मां-बहन का चेहरा देखते।

उधर राजद संसदीय दल के नेता जयप्रकाश नारायण यादव ने कहा कि बीजेपी मंत्री के बयान की जितनी निंदा की जाए, वह कम है। विनोद नारायण झा ने घटिया बयान दिया है और इसके लिए वे माफी मांगें। जबकि, राजद प्रवक्ता एज्या यादव ने कहा कि विनोद नारायण झा को बयान देने के पहले अपनी मां, बहन व पत्नी का चेहरा देखना चाहिए था। उन्होंने कहा कि महिलाओं के बारे में वे कितना घटिया सोचते हैं, इससे मेरा खून खौल जाता है। उन्होंने कहा कि बीजेपी वाले महिलाओं को घटिया नजरिए से देखते हैं। इसके पहले वे लोग सोनिया गांधी के बारे में सफेद स्किन को लेकर कमेंट करता थे। अब प्रियंका गांधी पर बोल रहे हैं।

You Might Also Like