मीड डे मील रसोइयों के लिए खुशखबरी, हर महीने मिलेगी इतनी पेंशन

मीड डे मील रसोइयों के लिए खुशखबरी, हर महीने मिलेगी इतनी पेंशन

मिड डे मील में खाना बनाने वाले रसोइयों को मानदेय भले ही 1000 रुपये महीना दिया जाता हो लेकिन उन्हें पेंशन प्रतिमाह 3 हजार रुपये मिलेगी। यह होगा प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के माध्यम से। इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 5 मार्च को करेंगे। योजना के तहत मिड डे मील के रसोइयों को भी लाभ दिया जाएगा। इसमें 18 से 40 वर्ष तक की आयु के रसोइयों को पंजीकरण करवाना है। एमडीएम प्राधिकरण ने जिलों को निर्देश भेज कर कहा है कि इसके लिए सभी रसोइयों को अपने बचत खाते और आधार कार्ड को लेकर नजदीक के जनसुविधा केन्द्रों पर जाना होगा। योजना के तहत न्यूनतम 55 और अधिकतम 200 रुपये जमा करने होंगे। इतना ही योगदान केन्द्र सरकार भी  देगी। पंजीकृत रसोइये की उम्र 60 वर्ष की होने पर उन्हें 3 हजार रुपये मासिक पेंशन भारतीय जीवन बीमा निगम दी जाएगी। यूपी के स्कूलों में 3,97,829 रसोइये  काम कर रहे हैं और इन सभी का पंजीकरण 5 मार्च से पहले करवाना है। 5 मार्च को प्रधानमंत्री जब इस योजना की शुरुआत करेंगे तो रसोइये स्कूल में मौजूद रहकर टीवी पर उनका कार्यक्रम भी देखेंगे। इसके लिए स्कूलों में टीवी की व्यवस्था किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। 

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में उन श्रमिकों, कर्मकारों आदि को शामिल किया गया है जिनकी मासिक आय 1500 रुपये से कम है। सरकार ने सूची जारी कर दी है कि 18 वर्ष के रसोइये को 55 रुपये, 19 वर्ष के रसोइये 58 रुपये और इसी तरह 40 वर्ष के रसोइये को 200 रुपये हर महीने इसमें जमा करना होगा। सरकार भी श्रमिक द्वारा जमा की गई धनराशि के समकक्ष ही इस योजना में जमा करेगी। योजना के तहत कर्मकार, कूड़ा बीनने वाले, गली में फेरी लगाने वाले, बोझा उठाने वाले, ईट भट्टा कर्मकार, धोबी, रिक्शा चालक, बीड़ी बनाने वाले आदि असंगठित क्षेत्र के कर्मकारों को लाभ दिया जाएगा।

You Might Also Like