अमित शाह ने कहा – अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर भारत-पाक रिश्तों का बुरा असर करतारपुर साहिब परियोजना पर नहीं पड़ेगा

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर तल्ख हुए भारत-पाक रिश्तों का बुरा असर करतारपुर साहिब परियोजना पर नहीं पड़ेगा। गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को सिख समुदाय के लोगों को भरोसा दिलाया है कि करतारपुर साहिब गलियारे का काम तय समयसीमा के अंदर पूरा किया कर लिया जाएगा।

शाह ने  कहा है कि ‘मोदी सरकार करतारपुर गलियारे के कार्य को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है’। माना यह जा रहा है कि अगर हालात सामान्य रहे तो नवंबर तक यह कार्य पूरा हो जाएगा।

गृह मंत्री अमित शाह का यह बयान भारत-पाक प्रतिनिधिमंडल के बीच हुई उस बैठक के बाद आया है जो करतारपुर के जीरो प्वाइंट पर रखी गई थी। उसमें तीर्थयात्रियों के लिए प्रस्तावित गलियारे की सड़कों और पुल के स्तर जैसे तकनीकी पहलुओं पर चर्चा की गई है। तनाव बढ़ने के बाद यह ऐसी पहली बैठक थी। बैठक में प्रत्येक पक्ष के 10 से 15 अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

आपको बता दें कि इस बैठक में दोनों पक्षों ने परियोजना की प्रगति की समीक्षा करने के लिए तकनीकी विशेषज्ञों की एक और बैठक कराने पर भी सहमति जताई है।

भारत की तरफ से बैठक में गृह मंत्रालय, सीमा सुरक्षा बल व भारतीय भूमि पत्तन प्राधिकरण के अधिकारियों ने भी  भाग लिया। यह प्राधिकरण अत्याधुनिक यात्री टर्मिनल इमारत का निर्माण कर रहा है। शाह का बयान इसलिए खास है क्योंकि पिछले दिनों में दोनों ओर से कुछ लोगों की तरफ से ऐसे बयान भी आए थे जिससे विवाद खड़ा हुआ था।

 

Related Articles

Live TV
Close