आगरा में सवर्ण और अनुसूचित जाति के बीच पथराव, पुलिस ने छोड़े अश्रु गैस के गोले

आगरा में सवर्ण और अनुसूचित जाति के बीच पथराव, पुलिस ने छोड़े अश्रु गैस के गोले

एससीएसटी एक्ट के विरोध में किये गए भारत बंद के दौरान आगरा से सटे कस्बे पिनाहट में स्थिति तनावपूर्ण हो गई। एससीएसटी एक्ट के समर्थन और विरोधी आमने सामने आ गए और बाजार बंद कराने को लेकर विवाद हो गया। दोनों पक्षों के बीच गाली गलौज के बाद जमकर पत्थरबाजी हुई। पथराव में कुछ लोग घायल भी हो गए।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों के लोगों को खदेड़ दिया लेकिन कुछ देर बाद दोनों ओर से फिर लोग एकत्र हो गए और पत्थरबाजी करने लगे। मामले को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। पुलिस को मामला शांत कराने के लिए अश्रु गैस के गोले दागने पड़े। स्थिति जब नियंत्रण में नहीं हुई तो पुलिस ने हवाई फाय¨रग का सहारा लिया। अभी भी स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। हालांकि पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है।

गुरुवार को सवर्णो द्वारा भारत बंद की घोषणा के बाद से बाजार बंद करने की अपील की गई थी। बाजारों में जगह- जगह अपली के पर्चे भी चस्पा कर दिए गए थे। पिनाहट कस्बे में लोगों ने सुबह रेलवे ट्रेक पर आगरा- इटावा पैसेंजर ट्रेन रोक कर प्रदर्शन किया और फिर बाजार में रैली निकाली थी। इसके बाद एसडीएम बाह अरुण कुमार को ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शनकारी बाजार में जगह- जगह सभाएं करके आगे की रणनीति पर चर्चा कर रहे थे, तभी विभिन्न वाहनों से दर्जनों ग्रामीण पहुंच गए।

बाजार में कुछ लोगों के प्रतिष्ठान खुले देख उन्हें बंद कराने का दवाब बनाने लगे। एससीएसटी एक्ट के समर्थकों ने प्रतिष्ठान बंद करने का विरोध किया तो दोनों पक्षों में विवाद हो गया। गाली गलौज के बाद चेहरे पर रुमाल बांधे कुछ लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। देखते ही देखते दोनों पक्षों में जबरदस्त पत्थरबाजी शुरू हो गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर दोनों पक्षों को खदेड़ा दिया लेकिन रुक रुक पर पथराव होता रहा। स्थिति बिगड़ती देख मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गया और अश्रु गैस के गोले दागे। स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस को हवाई फाय¨रग भी करनी पड़ी। फिलहाल पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है।

उधर खंदौली में यमुना एक्सप्रेस वे पर जाम लगा रहे ग्रामीणों ने एसडीएम की गाड़ी पर पथराव कर दिया किरावली मुख्य चौराहा पर युवाओं ने रैली निकाली और चौराहा पर बैठकर जाम लगा दिया। जाम खुलवाने के लिए फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे चौकी इंचार्ज हरेंद्र सिंह को जाम खुलवाने के लिए लाठी- ठंडों सहित अश्रु गैस के गोले भी दागने पड़े।

You Might Also Like