जम्मू कश्मीर

PAK ने दिन में दिया आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई का प्रस्ताव, रात में तोड़ा सीजफायर

आतंकवाद का पनाहगाह पाकिस्तान का दोहरा चेहरा एक बार फिर से दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है. जहां एक ओर पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक संदेश भेजा है, तो दूसरी ओर पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर से सीमा पर सीजफायर तोड़ा है.

Loading...

गुरुवार को पाकिस्तान ने पुंछ सेक्टर के चकन दा बाग में गोलीबारी की. हालांकि भारतीय सेना भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे रही है. फिलहाल दोनों ओर से सीमा पर गोलीबारी जारी है.

इसके अलावा पाकिस्तान ने भारत में सीमा पार से घुसपैठ करने वाले आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने का प्रस्ताव दिया है. इमरान खान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने से पहले पाकिस्तान की ओर से सीमा पार से घुसपैठ करने वाले आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने का यह प्रस्ताव सामने आया है.

गुरुवार को दोनों देशों के बीच अचानक हुई डीजीएमओ की बातचीत में पाकिस्तान ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच नियंत्रण रेखा पर आतंकियों की घुसपैठ रोकी जाएगी. लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष मेजर जनरल साहिर शमशद मिर्जा से हॉटलाइन के जरिए बातचीत की.

पाकिस्तान ने घुसपैठ रोकने के साथ-साथ आतंकियों की जानकारी साझा करने का प्रस्ताव भी दिया. हालांकि यह प्रस्ताव कोई नया नहीं है, इससे पहले साल 2006 में दोनों मुल्कों ने आंतक विरोध कार्यक्रम के तहत ऐसी जानकारी साझा करनी की रणनीति बनाई थी. लेकिन यह रणनीति कारगर साबित नहीं हो सकी.

मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद का पाकिस्तान में खुलेआम घूमना और सीजफायर उल्लंघन की बढ़ती घटनाओं पर पाकिस्तान ने जरा भी लगाम नहीं लगाई है. यहां तक कि पाठनकोट आतंकी हमले के दोषियों के खिलाफ सबूत देने के बावजूद भी पाकिस्तान कोई भी कार्रवाई नहीं कर पाया, जिसके बाद से दोनों देशों के संबंध लगातार बिगड़ते जा रहे हैं.

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close