LIVE TVMain Slideजीवनशैलीदेश

अगर बच्चो के बिग़डते मूड को लेकर है परेशान तो शामिल करे डाइट में ये चीजें

कई बार बच्चे छोटी-छोटी बातों पर मूड ख़राब कर लेते हैं जो धीरे-धीरे उनकी आदत में शुमार होने लगता है. हालांकि ये दिक्कत केवल बच्चों में ही नहीं बल्कि बड़ों में भी कई बार देखने को मिलती है. जिसको लोग अक्सर मूड डिसऑर्डर का नाम देते हैं.

Loading...

बड़ों की इस दिक्कत को दूर करने के लिए भले ही थोड़ा समय लगे लेकिन बच्चों की आदतों में शुमार हो रही मूड खराब करने की इस आदत को समय रहते सुधारना बेहद ज़रूरी है.

जिससे ज़रा-ज़रा सी बात पर मूड खराब करने की ये आदत उनके नेचर में शामिल न हो सके. एनबीटी में प्रकाशित एक खबर के अनुसार इस दिक्कत से निजात पाने के लिए आप बच्चों की डाइट में कुछ चीजों को शामिल कर सकते हैं.

बार-बार मूड खराब होने की दिक्कत को सही करने में अलसी का तेल अच्छी भूमिका निभाता है. इसके लिए आप डॉक्टर की सलाह से बच्चे की डाइट में किसी न किसी रूप में अलसी का तेल या अलसी शामिल कर सकते हैं. इससे मूड ख़राब होने की दिक्कत से तो निजात मिलेगी ही साथ ही तनाव और डिप्रेशन भी दूर होगा.

बच्चों में मूड खराब होने की आदत और चिड़चिड़ेपन को दूर करने में ब्राह्मी आपकी मदद कर सकती है. इसके लिए आप रोज़ाना बच्चे के सिर की मालिश ब्राह्मी के तेल से कर सकते हैं. साथ ही ब्राह्मी का टॉनिक भी बच्चे को दे सकते हैं.

इससे मूड ख़राब होने और चिड़चिड़ेपन से तो निजात मिलेगी ही मानसिक तनाव भी कम होगा, साथ ही दिमाग और याददाश्त तेज होंगे. इसके साथ ही आप अश्वगंधा को भी किसी न किसी रूप में बच्चे की डाइट में शामिल कर सकते हैं. ये बच्चे के नर्वस सिस्टम और मूड विकारों को ठीक करने में मदद करेगा.

बच्चों के बिगड़ते मूड को ठीक करने के लिए आप उनकी डाइट में मैग्नीशियम और विटामिन बी से भरपूर चीजों को शामिल करें. इसके लिए आप ब्लैक बींस, सोयाबीन, काजू, सूरजमुखी के बीज, कद्दू के बीज और पालक जैसी चीजों को बच्चे की डाइट में शामिल कर सकते हैं.

मैग्नीशियम मूड को संतुलित करने में मदद करता है तो वहीं विटामिन बी1, बी6, बी9 और बी12 डिप्रेशन, थकान, चिड़चिड़ेपन, एंग्जायटी और मूड स्विंग्स जैसी दिक्कत को दूर करने में मदद करते हैं.

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close