LIVE TVMain Slideदेशस्वास्थ्य

आइये जाने क्या होते है माइग्रेन के लक्षण औऱ इसके उपचार

माइग्रेन सिरदर्द का एक प्रकार होता है. इसमें व्यक्ति को हल्का या तेज सिरदर्द होता है. इसमें लोगों को सिर में झनझनाहट भी महसूस होती है. खासतौर पर इसमें सिर के आधे हिस्से में दर्द होती है.

Loading...

माइग्रेन के शिकार होने पर उल्टी, मतली, आवाज और प्रकाश से संवेदनशीलता होने लगती है. इससे पीड़ित व्यक्ति को चार घंटे से लेकर कई दिनों तक तेज दर्ज सिर में हो सकता है. माइग्रेन को आमतौर पर आनुवांशिक ही माना जाता है.

इस बीमारी के सही कारण क्या है इसका पता अभी तक नहीं लग पाया है. आपको बता दें की दुनिया की लगभग 15 फीसदी व्यस्क आबादी इस बीमारी से पीड़ित है. आज हम आपको इस बीमारी के लक्षण औऱ इसके उपचार के बारें में बताएंगे.

माइग्रेन में व्यक्ति को सिर में दर्द होता है. पर यह पता करना की सिर दर्द मामूली है या ये माइग्रेन के कारण हुई है इसके लिए इसका पता ऑरा से लगाया जाता है. ऑरा देखने संबंधी परेशानी हैं

जिसमें व्यक्ति को कुछ-कुछ अंतराल पर चमकीली रौशनी, आंखों के नीचे धब्बे, टेढ़ी मेढ़ी रेखाएं दिखाई देती है इसके अलावा स्किन में चुभन और कमजोरी महसूस होना इसके लक्षण है. इनसब के अलावा चिड़चिड़ापन सिर के आधे भाग में तेज दर्द और गुस्सा भी इसका प्रमुख लक्षण है.

यह एख न्यरोलॉजिकल दिक्कत है, जिसमें हर कुछ देर में तेज चुभन वाला दर्द होता है. इस बीमारी में उल्टी, मतली, गैस जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं.

माइग्रेन के उपचार के लिए अपने डाइट में बदलाव करना बहुत जरूरी है. इसके अलावा आप अगर एसी में है तो तुरंत धूप में न निकले. तेज गर्मी से आकर कभी भी ठंडा पानी न पिये. धूप के लिए सनग्लासेस और छाते का इस्तेमाल करें. ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं. चाय, कॉफी जैसी चीजों से भी परहेज करें.

इसके अलावा अपने ब्लड प्रेशर को मेंटन रखें. हर रोज टहलने जाए, हरी घास पर नंगे पाव चले, सूर्य नमस्कार करें और साध ही योग करें. अगर इनसब से भी अगर आपको कोई ज्यादा सुधार न हो तो अपने डॉक्टर की सलाह ले.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV