LIVE TVMain Slideजीवनशैलीदेश

इस बार इस तरह से मनाए ईको फ्रेंडली दीपावली

दिवाली यानी दीपों का त्‍योहार. हिंदू धर्म के सबसे महत्‍वपूर्ण त्‍योहारों में से एक इस फेस्टिवल को देश भर में अलग अलग तरीके से मनाया जाता है. अगर इसके मनाने के पीछे के उद्देश्‍य की बात की जाए

Loading...

तो यह हमारे अंदर मौजूद सत्‍य के विजय और अंधकार पर उजाले की जीत का सेलेब्रेशन है. इस दिन घर को सजाने और दीये जलाने की पुरानी परंपरा है. खुशियों को सेलिब्रेट करने के लिए लोग घरों में अल्‍पना, रंगोली बनाते हैं, लाइटिंग करते हैं,

नए कपड़े आदि पहनकर पूजा पाठ करते हैं. वहीं शाम में देवी लक्ष्‍मी और गणेश की पूजा होती है और पटाखे जलाए जाते हैं. लेकिन पटाखों की वजह से हमारे आप पास का पर्यावरण काफी दूषित होते हैं

और वातावरण को काफी नुकसान होता है. ऐसे में ईको फ्रेंडली दीवाली को बढावा दिए जाने की बात की जाती है. लेकिन अगर आपको यह समझ नहीं आता कि आखिर पटाखों के बिना दिवाली कैसे मनाई जाए तो यहां हम आपको बताते हैं कि आप किस प्रकार मजेदार तरीके से ईको फ्रेंडली दीपावली मना सकते हैं.

बढते प्रदूषण को देखते हुए कई राज्‍य सरकारों ने अपने यहां पटाखों पर बैन लगा रहा है. ऐसे में आप पटाखों की बजाए बलून या रंगीन कागज के गुब्‍बारों से बच्‍चों को खेलना सिखाएं. वे इन्‍हें फुलाकर एक दूसरे के साथ फोड़कर मजे कर सकते हैं. यह एक क्रिएटिव और मजेदार तरीका हो सकता है.

घरों को सजाने के लिए इन दिनों बाजार में तरह तरह के दीये और एलईडी लाइट मिल रहे हैं. ऐसे में आप मोमबत्तियों की बजाए इनका प्रयोग करें. दरअसल मोमबत्तियों में पेट्रोलियम पदार्थ होते हैं जो पर्यावरण को नुकसान पहुचाते हैं. जबकि एलईडी लाइट बिजली की खपत को कम करता है.

आप अगर कैमिकल वाले रंगों से रंगोली बनाएंगे तो ये जमीन को प्रदूषित कर सकता है. ऐसे में अगर आप चावल, या फूल आदि का प्रयोग कर रंगोली बनाएंगे तो ये ट्रेडिशनल के साथ साथ खूबसूरत

और रासायन मुक्‍त भी रहेगा. आप इसके लिए चावल, हल्दी, कॉफी पाउडर और कुमकुम का इस्‍तेमाल कर सकते हैं. इसके अलावा गुलाब, गेंदा, कमल, अशोक की पत्तियों आदि से भी इन्‍हें सजा सकते हैं.

दिवाली पर तोहफे देने की परंपरा होती है. ऐसे में अगर आप लोगों को चमकीली पॉलिथिन की बजाए न्‍यूज पेपर या हैंडमेड पेपर से अच्‍छी तरह से रैप कर गिफ्ट दें तो ये सभी को काफी पसंद आएगा. इस दिन आप ड्राई फ्रूट्स आदि या छोटे पौधे आदि तोहफे में दे सकते हैं. मिट्टी के डेकोरेशन भी आप दे सकते हैं.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV