LIVE TVMain Slideदेशप्रदेश

डूंगरपुर जिले में कोरोना के नए वेरियंट ओमिक्रॉन ने मचाई तभाही

डूंगरपुर जिले के गलियाकोट की मोहम्मदी कॉलोनी में मां-बेटे सहित 3 लोगों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद गलियाकोट एसडीएम ने कॉलोनी में कर्फ्यू लगा दिया है. कोरोना की तीसरी लहर में प्रदेश का यह पहला कर्फ्यू है.

Loading...

कॉलोनी के आसपास के इलाके में बैरिकेटिंग कर पुलिस तैनात कर दी गई है. कर्फ्यू की वजह से कॉलोनी में सन्नाटा पसरा हुआ है. कॉलोनी की दुकानें और लोगों की आवाजाही बंद है. सूरत से लौटी कोरोना संक्रमित महिला के सैंपल स्वास्थ्य विभाग ने ओमिक्रॉन जिनोम जांच के लिए पूना लैब में भेजे हैं. रिपोर्ट 10 दिन बाद आएगी.

जानकारी के मुताबिक, डूंगरपुर में गलियाकोट की रहने वाली महिला सूरत से 23 नवंबर की रात लौटी थी. फिर उसकी तबीयत खराब हो गई. 26-27 नवंबर को महिला के बेटे की शादी थी

जिसमें 50 से ज्यादा लोग शामिल हुए. महिला की रिपोर्ट 1 दिसंबर को पॉजिटिव आई. स्वास्थ्य विभाग ने महिला के परिवार व पड़ोसियों की जांच की तो बेटा और एक पड़ोसी भी संक्रमित मिले.

गलियाकोट सीएचसी के डॉ जाखड़ ने बताया कि कोरोना संक्रमित युवक और महिला दोनों घर पर होम आइसोलेट हैं. दोनों के सर्दी-जुकाम की तकलीफ है और उन्हें दवाइयां दे दी गई हैं.

पहली बार पॉजिटिव आई महिला के ओमिक्रॉन सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद ही जरूरत के अनुसार इनके जिनोम सैंपल भी लेकर भेजे जाएंगे. डॉ जाखड़ ने बताया कि गलियाकोट कस्बे में 1 एएनएम और एक आशा सहयोगिनी की 5 टीमें लगाकर रोजाना सर्वे कराया जा रहा है.

स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने अब तक 350 घरों का सर्वे किया है, जिसमेंं 70 लोगों में सर्दी-जुकाम, खांसी जैसी शिकायत थी. उन्हें दवाइया दे दी हैं. इन लोगों में दो पॉजिटिव आए, जबकि दूसरे सभी निगेटिव आए हैं.

डॉ जाखड़ ने बताया कि पांच दिन बाद एक बार फिर गलियाकोट कस्बे में बड़े पैमाने पर सर्वे करवाया जाएगा. क्षेत्र में लगे कर्फ्यू की पालना के लिए चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV