LIVE TVMain Slideट्रेंडिगदेश

देशभर में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से मरीज हुए परेशान इमरजेंसी सेवाएं ठप करने का किया ऐलान

देशभर में जूनियर डॉक्टर्स आज (सोमवार को) हड़ताल पर हैं. डॉक्टरों ने देशभर में इमरजेंसी सेवाएं ठप करने का ऐलान किया है. साथ ही साथ OPD सेवाएं भी बंद रहेंगी.

Loading...

डॉक्टरों की ये हड़ताल नीट-पीजी 2021 काउंसलिंग में देरी की वजह से हो रही है. रेजिडेंट डॉक्टरों के संगठन फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने हड़ताल का ऐलान किया है.

हड़ताल कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि अस्पतालों में रेजिडेंट डॉक्टरों की कमी है और कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच अस्पतालों पर आने वाले समय में दबाव पड़ सकता है. इसलिए जल्द से जल्द एडमिशन होने चाहिए.

डॉक्टरों की मांग है कि NEET-PG 2021 की काउंसलिंग में देरी ना हो. जल्द से जल्द एडमिशन किए जाएं. देश में जूनियर रेजिडेंट की कमी है. कोरोना की तीसरी लहर की आंशका के मद्देनजर हमें तैयार रहना चाहिए.

बता दें कि डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं और उन्होंने आपातकालीन सेवाओं का बहिष्कार कर दिया है. OPD सेवाएं भी बंद हैं. डॉक्टरों का कहना है कि हड़ताल 24 घंटे जारी रहेगी.

दरअसल NEET-PG की काउंसलिंग में देरी से डॉक्‍टर नाराज हैं. रेजिडेंट डॉक्‍टरों ने इमरजेंसी सेवाएं बंद करने का ऐलान किया है. डॉक्टर्स एसोसिएशन FORDA ने ये फैसला लिया है. स्वास्थ्य संस्थानों में रेजिडेंट डॉक्टरों की कमी का मुद्दा उठाया गया है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया को भी पत्र लिखा गया है. ज्यादातर बड़े अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाएं बंद रहेंगी. दिल्ली के RML, सफदरजंग और लेडी हार्डिंग अस्पताल में हड़ताल का असर दिख रहा है. मरीजों को काफी परेशानी हो रही है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV