LIVE TVMain Slideदिल्ली एनसीआरदेश

दिल्‍ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की योगशाला का किया शुभारंभ

दिल्‍ली सरकार ने घर-घर योग पहुंचाने के लिए बड़ा कदम उठाया है. दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सचिवालय से सोमवार को दिल्ली की योगशाला का शुभारंभ किया है. इस दौरान उन्‍होंने कहा कि योग से आत्मा, मन और शरीर स्वस्थ रहता है.

Loading...

योग के शिक्षक हम देंगे, अगर आप 25 लोग इकट्ठा होते हैं तो आप हमें इस नंबर 9013585858 पर मिस्ड कॉल दीजिए और आप जहां भी योग करना चाहे वहां कर सकते हैं.

इसके साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शिक्षक का कोई खर्चा नहीं होगा. हमारे लगभग 400 शिक्षक तैयार हो चुके हैं. इस कार्यक्रम की शुरुआत जनवरी से की जाएगाी.

इस दौरान सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार ने 7 साल में गर्वनेंस के क्षेत्र में नए नए सफल एक्सपेरिमेंट किए. शिक्षा, स्वास्थ्य बिजली के क्षेत्र में नए एक्सपेरिमेंट किए, लोग तीर्थयात्रा पर जा रहे हैं.

हमने दिल्ली में अस्पताल, मोहल्ला क्लीनिक खूब बनाए, छोटी से छोटी बीमारी से लेकर सर्जरी तक मुफ्त होता है. वहीं, आज हम जो शुरू करने जा रहे हैं, हम चाहते हैं कि लोग बीमार ही न हों. योग भारत की देन है, इससे आत्मा मन शरीर सब स्वस्थ होते हैं.

आजकल रोडरेज में लड़ाई हो जाती हैं, मन मे शांति नहीं है, अस्वस्थ है. ऐसे में योग मदद कर सकता है. जब स्कूलों में हमने हैपिनेस क्लासेज शुरू की पता नहीं था कि ऐसा परिवर्तन आएगा, लेकिन मेडिटेशन से बच्चों का मन शांत होने लगा है.

योग क्लासेज से भी ऐसा परिवर्तन आएगा. हमने दिल्ली की योगशाला शुरू की है. योग के शिक्षक हम देंगे. कहीं भी 25 लोग इकट्ठे हों, आसपास के पार्क या कम्युनिटी हॉल में जगह देख लें और हमें 9013585858 पर मिस्‍ड कॉल दो, योग शिक्षक हम देंगे.

करीब 8 महीने में ही यह कार्यान्वित हो रहा है. जनवरी से यह कार्यक्रम शुरू होगा. कम से कम 20 हजार लोग इस कार्यक्रम के जरिए योग करना शुरू कर देंगे. यह देशभर में अपनी तरह का कार्यक्रम है. मोहल्ला क्लीनिक, तीर्थयात्रा और फ्री बिजली को दूसरे राज्य अपना रहे हैं, उम्मीद है इसे भी अपनाएंगे.

दरअसल दिल्ली सरकार योग को जन आंदोलन बनाना चाहती है. जबकि कोविड मरीजों के लिए भी योग के फायदे को देखते हुए इस घर-घर पहुंचाने की योजना है. इसलिए अलग से बजट में 25 करोड़ रुपये का प्रावधान भी किया गया था.

जानकारी के मुताबिक, पहले यह घर-घर योग कार्यक्रम बीते 2 अक्तूबर को शुरू होना था, लेकिन किसी कारणवश यह नहीं हो पाया है. हालांकि आज यानी सोमवार को सीएम ने इसकी शुरुआत कर दी है.

वहीं, दिल्‍ली की योगशाला किसी पार्क, कम्युनिटी सेंटर या सार्वजनिक स्थल पर लग सकती है, जहां पर लोग शांति से योग सीख सकें. हालांकि पहले चरण में योगशाला के कुछ ही केंद्र शुरू होंगे.

दिल्‍ली में अब तक कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के दो मामले सामने आ चुके हैं. केजरीवाल ने कहा कि हम ओमिक्रॉन के खतरे से निपटने के लिए तैयार हैं. यदि आवश्यक हुआ तो हम जरूरी प्रतिबंध लगाएंगे. फिलहाल किसी तरह की पाबंदी लगाने की जरूरत नहीं है.

वहीं, प्रदूषण के कारण बंद चल रहे स्‍कूलों के खोले पर उन्‍होंने कहा कि स्कूलों को फिर से खोलने पर फैसला स्कूलों की शीतकालीन छुट्टी खत्म होने के बाद लिया जाएगा. बता दें कि प्रदूषण की वजह से सुप्रीम कोर्ट की नाराजगी के बाद 2 दिसंबर से फिर स्‍कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV