LIVE TVMain Slideदेशबिहारसाहित्य

रेलवे परीक्षा के छात्रों पर लगाएं मुकदमे वापस लेने की मांग

युवा मंच संयोजक राजेश सचान के बारे में जो सोशल मीडिया पर छात्रों को भड़काने की बात कहीं गई और वर्चुअल युवा पंचायत बुलाकर बवाल करने क ा जो आरोप लगाया गया है वह पूरी तरह निराधार है। क्योंकि 25 जनवरी को गूगलमीट पर आयोजित वर्चुअल मीटिंग की प्रेस रीलीज से यह पूरे तौर पर स्पष्ट है कि युवा मंच ने छात्रों को न तो भड़काया और न ही युवा पंचायत से बवाल करने की कोई अपील की थी। उक्त बातें आज यूपी प्रेसक्लब में रेलवे परीक्षा में हुई धांधली पर आयोजित पत्रकार वार्ता में आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष एस आर दारापुरी ने कहीं। आगे उन्होंने कहा कि रेलवे भर्ती में आंदोलित छात्रों पर दमन और युवा मंच संयोजक राजेश सचान की गिरफतारी की हम कड़ी आलोचना करते हैं और सरकार से राजेश सचान की बिना शर्त रिहाई की मांग दोहराते है। साथ ही दो और छात्रों की गिरफतारी हुई हैं उनकी रिहाई और अन्य छात्रों पर लगाएं फर्जी मुकदमें वापस लेने की मांग करते हंै। इस मौके पर सीपीएम के राज्य सचिव व मंडल सदस्य कामरेड प्रेमनाथ राय सीपीआई के राज्य कौंसिल सदस्य व लखनऊ जिला मंत्री कामरेड अकरम खान सोशलिस्ट पार्टी इंडिया के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संदीप पांडये स्वराज इंडिया के प्रदेश अध्यक्ष अनमोल तथा राजीव ध्यान कांग्रेस से हरेराम मिश्रा व दिनकर कपूर कमलेश सिंह मौजूद रहे।

Loading...
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV