LIVE TVउत्तर प्रदेशखबर 50दिल्ली एनसीआरदेशप्रदेशबड़ी खबर

हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी को हिरासत में लेना प्रशासन का दोहरा मापदण्ड

लखनऊ। अखिल भारत हिन्दू महासभा सहित विभिन्न हिन्दू संगठनों और हिन्दूवादी नेताओं ने बीती मध्यरात्रि को हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी को हिरासत में लिये जाने की कड़ी निन्दा करते हुये प्रशासन पर दोहरा मापदण्ड अपनाने का आरोप लगाया है। मालूम हो कि प्रशासन से अनुमति न मिलने के बाद आज निकलने वाली लक्ष्मण टीला मुक्ति संकल्प यात्रा को रद कर दिया गया था, बावजूद इसके हिन्दू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी को उनके बिसवां सीतापुर स्थित आवास से हिरासत में ले लिया गया। इस यात्रा को लेकर चेतावनी देने वाले टीले वाली मस्जिद के मौलाना फजल उर मन्नानी को हाथ भी नहीं लगा सका। अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रदेश संयोजक पंकज तिवारी, युवा प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष गौरव शुक्ला, जागू आश्रम के महन्त योगेन्द्र दास, प्रदेश महासचिव सिद्धार्थ दुबे, प्रदेश मंत्री श्रीराम तिवारी, संत प्रकोष्ठ के अध्यक्ष बाबा महादेव, हिन्दूवादी नेता शिवपूजन दीक्षित, शिवसेना के प्रदेश उपाध्यक्ष गौरव वर्मा, महन्त अवैधनाथ चैरिटेबल ट्रस्ट के सचिव मोहित मिश्रा, लखनऊ जिला अध्यक्ष नीरज शुक्ला, श्रमिक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष गोपी कृष्ण, विधि प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने निन्दा करते हुये कहा कि लक्ष्मण टीला मुक्ति संकल्प यात्रा षान्तिपूर्ण ढंग से निकलनी थी, लेकिन मौलाना की धमकी के बाद प्रशासन ने उल्टे उनके खिलाफ काररवाई न कर हिन्दू महासभा के प्रदेष अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी को हिरासत में लेकर हिन्दू विरोधी और दोहरा चरित्र दिखाया है। विरोध प्रदर्शन में शमिल शिवसेना के प्रदेश उपाध्यक्ष गौरव वर्मा ने कहाकि हिन्दुत्व के मुद्दे पर सभी हिन्दूवादी संगठन एकजुट है और लक्ष्मणटीला की मुक्ति के लिये बनने वाली रणनीति सषक्त भागीदार के रूप में शामिल होंगे। दूसरी तरफ हिन्दू महासभा के प्रदेष संयोजक पंकज तिवारी ने बताया कि लक्ष्मण टीला ही नहीं बल्कि देश और प्रदेश के उन सभी हिन्दू धार्मिक स्थलों के लिये लड़ाई लड़ने के लिये हिन्दू महासभा अपने संगठनात्मक ढांचे में मजबूती लाते हुये जल्द से जल्द रणनीति तैयार करेगी।
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV