Main Slideउत्तर प्रदेशदेशबड़ी खबरमध्य प्रदेश

मोदी सरकार के सामने आएगा विपक्ष 13 जनवरी को एक बार फिर कई मुद्दों से करेगा हमला

जेएनयू हिंसा JNU हिंसा के बाद जहा देश भर में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है, जहा लोग आजादी की मांग कर रहे है वही सड़को पर लोग पोस्टर लेकर शांतिपूरण प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं इस मामले पर सियासत भी गर्माती नजर आ रही है। जिसके बाद अब विपक्षी इस मामले को लेकर मोदी सरकार को घेरने की पूरी तैयारी कर रही है। विपक्षी दल 13 जनवरी को एकजुट होकर रणनीति पर चर्चा करेंगे.

Loading...

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में कांग्रेस आने वाले सोमवार के दिन एक मीटिंग रखी जाएगी जिसमें कांग्रेस की लीडर ममता बनर्जी, डीएमके की चीफ एमके.स्टालिन और लेफ्ट पार्टीज के लीडर्स इसका हिस्सा होंगे।13 जनवरी को सीएए, एनआरसी के विरोध में जेएनयू सहित अन्य विश्वविद्यालयों में छात्रों के आंदोलन और हिंसा की घटनाओ को लेकर कांग्रेस के साथ अन्य विपक्षी दलों के प्रमुख नेता इस बैठक का हिस्सा होंगे.

आपको बता दे कि दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में एक बार फिर हिंसा का मामला सामने आया था। जेएनयू छात्र संघ ने दावा किया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने हिंसा को अंजाम दिया है। जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष पर भी हमला किया गया था। इस हमले में आइशी घोष के सिर में गंभीर चोट आई है। हमले में 20 से अधिक छात्रों के घायल होने की खबर है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV