ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50दिल्ली एनसीआरदेशबड़ी खबर

लखनऊ के चौराहों पर लगाए योगी ने उपद्रवियों के पोस्टर

आपको बतादे की नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के नाम पर राजधानी लखनऊ में हिंसा तोड़फोड़ और आगजनी करने वाले उपद्रवियों के पोस्टर जारी कर दिए गए हैं. लखनऊ के चौराहों पर बड़े होर्डिंग्स लगाए गए हैं, जिनमें बीते साल 19 और 20 दिसंबर को राजधानी में आगजनी, तोड़फोड़ और हिंसा करने वालों के नाम के साथ उनकी फोटो लगाई गई है. लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के नाम पर हिंसा, तोड़फोड़ और आगजनी करने वालों की पहचान कर प्रशासन की ओर से अब तक 1 करोड़ 55 लाख रुपये के रिकवरी का नोटिस दिया जा चुका है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर इन उपद्रवियों के पोस्टर चौराहों पर लगाए गए हैं साथ ही यह भी बता दे कि सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की आड़ में लखनऊ के परिवर्तन चौक पर बीते 19 और 20 दिसंबर को उपद्रवियों ने सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया था और आम लोगों की गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया था. इस मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उपद्रवियों की पहचान कर प्रशासन की ओर से उन्हें वसूली नोटिस भेजा गया था. अब ऐसे ही करीब 57 उपद्रवियों की तस्वीरें लखनऊ के अटल चौक और हजरतगंज सहित अन्य चौराहों पर लगाए गए हैं.

शहर के चौक-चौराहों पर लगे इन पोस्टर्स में कई बड़े नाम भी शामिल हैं. अटल चौक और हजरतगंज इलाके में लगाए गए बड़े-बड़े पोस्टर्स में पूर्व आईपीएस अफसर एसआर दारापुरी की तस्वीर भी है. आपको बता दें कि पूर्व आईपीएस दारापुरी पर सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़काने का आरोप है. इसके अलावा दीपक मिश्रा, सामाजिक कार्यकर्ता और कांग्रेस से जुड़ी रहीं सदफ जाफर की तस्वीरें भी लखनऊ के चौराहों पर लगाई गई हैं. मौलाना सैफ अब्बास का नाम भी हिंसा करने वालों की लिस्ट में शामिल.

Related Articles

Back to top button