विदेश

चीन के अरबों रुपए के कर्ज तले दबा है पकिस्तान

चहुँमुखी दबाव और आतंकियों को शरण देने के मामले में खुद को असक्षम पाने वाला पाक अब अपनी चरमराती अर्थव्यवस्था के लिए चीन का मुँह ताक रहा है और चीन ने उसे 1 अरब डॉलर की आर्थिक मदद कर दी है. पाकिस्तानी वित्त मंत्रालय के अनुसार चीन ने पाक को विदेशी मुद्रा भंडार को बढ़ाने के लिए 1 अरब डॉलर दिए हैं. यह खबर ऐसे वक्त आई है, जब आर्थिक संकट से जूझ रहा पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से एक और बेलआउट पैकेज हासिल करने की कोशिशों में जुटा है.

Loading...

चीन की तरफ से मिली इस आर्थिक मदद को लेकर वित्त मंत्रालय के सूत्र ने कहा, ‘हां, यह हमारे पक्ष में है.’ वहीं एक अन्य सूत्र ने कहा कि ‘मामला पूरा हो गया है.’ इस लोन के साथ, जून में समाप्त होने वाले इस वित्तीय वर्ष में पाकिस्तान को चीन का दिया उधार पांच अरब डॉलर से भी ऊपर चला गया है.

फ़िलहाल चीन पाक की मदद में कोताही नहीं बरत रहा है और पाक को कर्ज तले दबा कर अपना उल्लू सीधा करने की कवायद में है. पाकिस्तान का विदेश मुद्रा भंडार मई 2017 में 16.4 अरब डॉलर से घटकर पिछले हफ्ते महज 9.66 अरब डॉलर रह गया है. रिपोर्ट में बताया गया कि वित्त मंत्रालय के दस्तावेज के अनुसार, वित्तीय वर्ष के पहले 10 महीनों में चीन ने पाकिस्तान को द्विपक्षीय ऋण में 1.5 अरब डॉलर दिए थे. मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि इस अवधि के दौरान पाकिस्तान को चीनी बैंकों से कमर्शियल लोन में 2.9 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV