देश

भूकंप: भारत सहित दुनिया के कई हिस्सों में एक बार फिर धरती डोली

मंगलवार तड़के 1:33 बजे अरुणाचल प्रदेश में भूकंप के हल्के झटके महसूस किये गए. रिक्टर स्केल (Richter scale) पर इन झटकों की तीव्रता 3.4 मापी गई.

Loading...

भूकंप का केंद्र तवांग में था. मालूम हो कि पिछले कई दिनों से पूर्वोत्तर राज्य में बार-बार झटके महसूस किये जा रहे हैं. वहीं, सिंगापुर (Singapore) में सुबह 4 बजकर  24 मिनट 46 सेकंड पर भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए.

रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 6.1 मापी गई. भूकंप का केंद्र सिंगापुर के 1102 किलोमीटर दक्षिणपूर्व में था. फिलहाल किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है.

भारत और सिंगापुर की तरह इंडोनेशिया (Indonesia) में भी झटके महसूस किये गए. यहां रिक्टर स्केल पर झटकों की तीव्रता 6.6 मापी गई है.

भूकंप का केंद्र सोमारांग से 142 किमी उत्तर में रहा. 9 जून को भी इंडोनेशिया के मलुकू प्रांत में झटके महसूस किये गए थे. उस वक्त इसकी तीव्रता 5.8 मापी गई थी.

आपको बता दें कि इंडोनेशिया पेसिफिक रिंग ऑफ़ फायर नामक एक अति-संवेदनशील भूकंप प्रभावित क्षेत्र पर बसा हुआ है, जिसकी वजह से यहां अक्सर भूकंप के झटके आते हैं. इससे पहले अफगानिस्तान और तजाकिस्तान में सोमवार को भूकंप के झटके महसूस किये गए थे.

गौरतलब है कि मॉनसून की दस्तक के बीच भारत में पिछले कुछ दिनों में कई बार धरती डोली है. पिछले तीन महीने से लगातार दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं.

इसके अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों से भी लगभग हर दूसरे दिन भूकंप की खबरें आ रही हैं. पिछले हफ्ते दिल्ली और आस-पास के इलाकों (Delhi-NCR) में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.7 मापी गई थी.

पिछले गुरुवार को लद्दाख क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए जिसका केंद्र कारगिल बताया गया. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.5 मापी गई.

नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, दोपहर 1 बजकर 11 मिनट पर करगिल में भूकंप के झटके महसूस किए गए. इसका केंद्र करगिल से 119 किलोमीटर नॉर्थवेस्ट में रहा.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV