दिल्ली एनसीआर

अगले महीने होगा दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ का चुनाव

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ का चुनाव अगले माह होने जा रहा है। अमूमन इन दिनों डीयू में हर तरफ छात्र नेताओं के बैनर पोस्टर दिखाई देने शुरू हो जाते हैं। मगर इस बार अभी तक डूसू के भावी प्रत्याशियों के बैनर पोस्टर से दिल्ली विश्वविद्यालय का नॉर्थ कैम्पस पटा नहीं है और वाल पर डेमोक्रेसी पर ही पोस्टर दिखाई दे रहे हैंं।

Loading...

इसके पीछे न्यायालय  और एनजीटी की सख्ती को कारण माना जा रहा है। साथ ही विवि भी इस बार शुरुआत से ही सख्त रुख अपनाए हुए है। अब देखना यह होगा कि जैसे-जैसे डूसू चुनाव नजदीक आता है, वैसे वैसे हालात बदलते हैं या इसबार डूसू चुनाव में अलग तरह का प्रचार दिखाई देता है। 

मालूम हो,पिछले साल चुनाव प्रचार के दौरान प्रत्याशियों द्वारा गंदगी फै लाने पर कोर्ट ने जहां डीयू से जवाब तलब किया था, तो वहीं एनजीटी ने भी जवाब मांगा था। जिसके बाद प्रत्याशियों को उनके बैनर पोस्टर हटाने का भी आदेश दिया गया था। पिछले साल से सबक लेकर इस बार डीयू प्रशासन चुनाव प्रचार के दौरान प्रतयाशियों द्वारा गंदगी नहीं फैलाए जाने को लेकर शुरुआत से ही मुस्तैद दिखाई दे रहा है।
डूसू चुनाव के दौरान प्रत्याशी समर्थकों द्वारा सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने से बचाने के लिए पांच सदस्य समिति का गठन किया गया है। इस समिति में डीयू के साथ ही दिल्ली पुलिस, उत्तरी नगर निगम और दिल्ली मेट्रो के अधिकारी भी शामिल हैं। समिति में कुलपति, डीन छात्र कल्याण, उत्तरी दिल्ली नगर निगम उपायुक्त, उत्तरी जिले के डीसीपी, मेट्रो के प्रबंधन के अतिरिक्त मुख्य सुरक्षा अफसर मौजूद हंै। डीयू प्रशासन और पुलिस द्वारा कॉलेजों की दीवारों, मेट्रो स्टेशनों के आसपास पोस्टर, बैनर व स्याही से उम्मीदवारों के नाम नहीं लगाने पर नजर रखी जाएगी।
Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close