उत्तर प्रदेश

KGMU में रेजीडेंट डॉक्टरों की हड़ताल से मचा हडकंप, करीब 20 हजार मरीज बेहाल

केजीएमयू में रेजीडेंट डॉक्टरों की हड़ताल से हाहाकार मच गया है। इमरजेंसी सेवाएं वरिष्ठ चिकित्सकों के हवाले आ गई हैं। हड़ताल से करीब 20 हजार मरीज प्रभावित है।

Loading...
रेजीडेंट डॉक्टर पीजीआई के समान वेतन व भत्ते की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं। घबराए प्रशासन ने डॉक्टरों को बातचीत के लिए बुलाया लेकिन केजीएमयू के वीसी एमएलबी भट्ट के साथ उनकी वार्ता सफल नहीं हो सकी जिससे सभी डॉक्टर परिसर के ही कलाम सेंटर पर जाकर बैठ गए।

आपको बता दें कि भर्ती मरीजों की अहम जिम्मेदारी रेजीडेंट डॉक्टरों की ही होती है। उनके हड़ताल पर जाने से मरीज बेहाल हो रहे हैं। इमरजेंसी सेवाएं सीनियर डॉक्टरों के जिम्मेदारी पर आ गई हैं।

वीसी एमएलबी भट्ट के कार्यकाल में लगातार डॉक्टरों की हड़तालें हो रही हैं। डॉक्टरों की समस्याओं का कोई स्थायी समाधान नहीं निकल पा रहा है। फिलहाल मरीज बेहाल हैं।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close