LIVE TVMain Slideदेशधर्म/अध्यात्म

जन्म कुंडली में इन तीन ग्रहों के मजबूत होने से नहीं होगी धन की समस्या

लक्ष्मी जी को धन की देवी माना गया है.मान्यता है कि जिस व्यक्ति पर लक्ष्मी जी की कृपा रहती है उसे जीवन में धन की कमी नहीं रहती है.

Loading...

ऐसे व्यक्तियों के जीवन में सुख और समृद्धि बनी रहती है. इसीलिए हर व्यक्ति धन की प्राप्ति के लिए कठोर परिश्रम करता है. यहां तक की दूरे देशों की यात्राएं भी करता है.

भौतिक युग में धन जीवन को जीने का प्रमुख साधन है. चाणक्य की चाणक्य नीति भी कहती है कि जो व्यक्ति धन के महत्व को नहीं जानता है वह बुरे वक्त में कष्ट भोगता है. लेकिन कई बार ऐसा होता है कि मेहनत करने के बाद भी जीवन में धन की कमी बनी रहती है.

ऐसा ग्रहों की चाल के कारण भी होता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब जन्मकुंडली में बैठे ग्रह अशुभ फल देने लगते हैं तो कई बार जीवन में धन का संकट खड़ा हो जाता है. व्यक्ति की जमा पूंजी नष्ट हो जाती है. बिजनेस में हानि आरंभ हो जाती है.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जन्मकुंडली में विराजमान कुछ ग्रहों को यदि मजबूत कर लिया जाए तो धन के मामले में आने वाली दिक्कतों को काफी हद तक दूर किया जा सकता है.

बुध, शुक्र और गुरू ग्रह व्यक्ति को धन के मामले में मजबूती प्रदान करते हैं. यदि इन ग्रहों की अशुभता को दूर कर लिया जाए तो धन से जुड़ी परेशानियों को दूर किया जा सकता है. ये ग्रह शुभ होने पर व्यक्ति को करोड़पति भी बना सकते हैं.

कुंडली में बैठे अशुभ ग्रह धन संबंधी समस्याएं भी खड़ी करते हैं. इन ग्रहों पर यदि पाप ग्रहों की दृष्टि पड़ जाए तो स्थिति और भी अधिक बिगड़ जाती है. जिस कारण व्यक्ति को कार्यों में सफलता नहीं मिलती है. जॉब, करियर, बिजनेस में बाधा आने लगती है.

बुध :बुध ग्रह बुद्धि का कारक ग्रह है. बुध का संबंध बिजनेस और तकनीक से भी है. इस ग्रह की अशुभता को दूर करने के लिए भगवान गणेश जी की पूजा करना चाहिए. बुधवार के दिन गणेश जी को दूर्वा घास अर्पित करने से शुभ फल प्राप्त होते हैं. इसके साथ ही मां सरस्वती और माता लक्ष्मी की भी पूजा करने से धन संबंधी दिक्कतें दूर होती हैं. बुधवार के दिन काले रंग की गाय को मिष्ठान खिलाएं.

शुक्र :शुक्र ग्रह का संबंध सुख सुविधाओं से है. शुक्र जब अच्छी स्थिति में होता है तो व्यक्ति को जीवन में सभी प्रकार की सुविधाएं प्राप्त होती हैं. शुक्र ग्रह की अशुभता को दूर करने के लिए लक्ष्मी जी की पूजा करनी चाहिए. सफेद वस्त्रों का दान देना चाहिए. कलाकारों का सम्मान करने और उन्हें उपहार देने से भी शुक्र देव प्रसन्न होते हैं. वहीं महिलाओं का सम्मान करने से भी शुक्र शुभ फल देते हैं.

बृहस्पति :बृहस्पति ग्रह को देवताओं का गुरू भी कहा जाता है. इसे गुरू भी कहते हैं. यह ज्ञान और विभिन्न श्रोतों से धन दिलाने का कारक ग्रह है. इस ग्रह को मजबूत बनाने के लिए बड़ों का सम्मान करें. गुरूजनों का आर्शीवाद प्राप्त करें, उन्हें खुश रखें.अगर किसी से वादा किया है तो उसे पूरा जरूर करें. गरीबों को दान दें. भगवान विष्णु की पूजा करने से भी गुरू प्रसन्न होते हैं.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV