प्रदेशबिहार

जोकीहाट में RJD की जीत पर विपक्षी पार्टियों ने कहा – ‘नफरत पर हुई प्यार की जीत’

जोकीहाट: जोकीहाट उपचुनाव की तस्वीर साफ हो चुकी है और यहां से आरजेडी के शहनवाज आलम की जीत साफ दिख रही है. आरजेडी के शहनवाज आलम शुरुआत में पिछड़ने के बाद हर राउंड के बाद आगे चल रहे हैं. ऐसे में जहां आरजेडी के नेता जहां इसका श्रेय तेजस्वी यादव को दे रहे हैं तो वहीं जेडीयू हार की वजहों को तलाशने की कोशिश करेगी. 

Loading...

आपको बता दें कि जोकीहाट से जेडीयू के मुर्शीद आलम को टिकट दिया गया था तो वहीं आरजेडी से पूर्व सांसद तस्लीमुद्दीन के छोटे बेटे शहनवाज आलम को टिकट दिया गय और जोकीहाट को तस्लीमुद्दीन का गढ़ माना जाता रहा है. तस्लीमुद्दीन का परिवार एक दो नहीं कई बार जोकीहाट के सीट से जीत चुका है और ऐसे में उनके कले के भेदना आसान नहीं होगा. 

जेडीयू के नेता अशोक चौधरी का कहना है कि ‘जोकीहाट का नतीजा उम्मीद के मुताबिक नहीं है. हम लोगों ने पूरी कोशिश की थी लेकिन अपनी कमियों को भी देखेंगे. वहीं दिलीप चौधरी का कहना है कि ‘तस्लीमुद्दीन के परिवार का  जोकीहाट में दहशत.’ तो वहीं रामचंद्र भारती परिवार के प्रभाव के कारण जोकीहाट में जेडीयू की हार हुई है.’

वहीं इसके आरजेडी नेताओं में खुशी की लहर है और आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने इसका श्रेय तेजस्वी यादव को दिया है और कहा है कि ‘तेजस्वी के नेतृत्व में ये बड़ी जीत है. प्रशासन और नीतीश सरकार ने इसमें पूरी ताकत लगा दी थी और एनडीए के सभी दल और मंत्री लोगों को डराने धमकाने में भी लगे थे.’

वहीं आरजेडी शिवानंद तिवारी ने तेजस्वी की तारीफ करते हुए कहा है कि ‘तेजस्वी यादव का नेतृत्व बिहार में हावी हो चुका है. देश में विपक्ष मजबूत हो रहा है. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि पीएम की भाषा पर टिप्पणी करते हुए कहा कि पीएम ने खुद पीएम की मर्यादा को तार-तार किया है. 2019 में एनडीए जनता नकार देगी और साथ ही नीतीश की साख भी खत्म हो रही है.’

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV