Main Slideप्रदेशमध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में ‘भारत बंद’ के दौरान हिंसक प्रदर्शन, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने की तोड़फोड़

उज्जैनः पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों के विरोध में कांग्रेस द्वारा बुलाए भारत बंद के दौरान मध्य प्रदेश के उज्जैन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर तोड़फोड़ की. जिसके चलते पुलिस और कांग्रेसियों में जमकर झड़प हो गई. दरअसल, उज्जैन में सुबह 9 बजे से ही कांग्रेस कार्यकर्ता इकट्ठा होकर जिले की दुकानों, स्कूलों, कॉलेज और पेट्रोल पंप बंद कराने के लिए निकले थे. तभी एक पेट्रोल पंप के पास अचानक ही कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ शुरू कर दी. जिसे बंद कराने के पुलिस ने कार्यवाई करते हुए पहले तो कार्यकर्ताओं को ऐसा न करने की समझाइश दी, लेकिन कार्यकर्ताओं के बात न सुनने पर पुलिस को बीच-बचाव के लिए उतरना पड़ा.

Loading...

देवी अहिल्या बाई में परीक्षा निरस्त
बता दें कांग्रेस द्वारा बुलाए भारत बंद का मध्य प्रदेश में भी व्यापक असर देखने को मिला. मध्य प्रदेश के कई बड़े जिलों में सुबह से ही स्कूल-कॉलेज और दुकानों पर ताले नजर आए. मालवा-निमाड़ में भी बंद के दौरान पब्लिक ट्रांसपोर्ट पूरी तरह से ठप्प रहा. इंदौर में जहां एक ओर स्कूलें बंद हैं तो वहीं देवी अहिल्या बाई विश्वविद्यालय की भी कई परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. प्रदेश में राजनीतिक पार्टियों के साथ ही बड़े-छोटे व्यापारिक संगठनों ने भी बंद का खुलकर समर्थन किया है. 

6 सितंबर को कांग्रेस कहां थी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के जोर-जबरदस्ती बंद न कराने के आदेश के बाद भी राजधानी भोपाल में कांग्रेसियों ने खूब हंगामा किया और 5 नंबर बस स्टॉप स्थित दुर्गा पेट्रोल पंप बंद कराया. पेट्रोल पम्प कंर्मचारियो और मैनेजरों का कहना है कि जबरन पेट्रोल पंप के मेन गेट को कांग्रेसियों ने बंद किया. पेट्रोल पंप संचालक का कहना है कि जब 6 सितम्बर को भारत बंद किया था तब कोई कांग्रेस BJP वाले नही आये थे. तो अब हम क्यों कांग्रेस के भारत बंद का समर्थंन करें. कांग्रेसियों के जाते ही फिर से पेट्रोल पंप चालू हो गया.

जिलाध्यक्ष भुनेश्वर नागराज पर मारपीट का आरोप
मध्य प्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़ में भी कई इलाकों में बंद को समर्थन मिला और प्रदेश की कई अन्य राजनीतिक पार्टियों ने भी इसका खुलकर समर्थन किया. वहीं छत्तीसगढ़ के कांकेर में पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों पर बंद के आह्वान पर व्यापारियों और कांग्रेसियो में नोक-झोंक हो गई. व्यापारियों ने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष भुनेश्वर नागराज पर मारपीट का आरोप भी लगाया है. शहर के व्यापारियों ने चरामा थाना पहुंचकर कांग्रेस जिलाध्यक्ष भुवनेश्वर नागराज के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है.

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close