LIVE TVMain Slideदेशस्वास्थ्य

इन आसान तरीके से पाए जोड़ों के दर्द से आराम

जोड़ों में दर्द एक आम समस्‍या हो गई है. कई बार एक जगह बैठे बैठे काम करने की वजह से तो कई बार अत्‍यधिक काम करने के कारण लोग जोड़ों में दर्द की शिकायत करते हैं.

Loading...

इसकी वजह खराब जीवन शैली और अनियमित खानपान भी हो सकता है. इसके अलावा कैल्शियम, विटामिन डी आदि की कमी भी इसकी वजह होती है. कई लोगों में तो यूरिक एसिड बढ जाने से ये दर्द होता है.

लेकिन सबसे ज्‍यादा जोड़ों में दर्द की शिकायत बुजुर्गों में देखने को मिलती है. इसके दर्द से राहत पाने के लिए वे तरह तरह के बाम का प्रयोग करते है. हालांकि इससे उनके दर्द में थोड़ा आराम तो मिलता है

लेकिन यह दोबारा शुरू हो सकता है. ऐसे में बार बार मेडिसिन का प्रयोग कई अन्‍य समस्‍याओं की वजह भी बन सकता है. हेल्‍थलाइन के मुताबिक, यहां हम आपको ऐसे उपाय बता रहे हैं

जो आप घर पर आसानी से कर सकते हैं और इसका कोई साइड इफेक्‍ट भी नहीं है. आइए जानते हैं कि जोड़ों में दर्द हो तो किन उपायों को अपनाना चाहिए.

अगर आप रोजाना एक्सरसाइज करते हैं या सुबह शाम वॉक पर जाते हैं तो आप देखेंगे कि जोड़ों में दर्द की शिकायत कम हो रही है. दरअसल जब आप व्‍यायाम करते हैं तो ऑस्टियोपोरोसिस के विकास में देरी होता है जो दरअसल जोड़ों के दर्द की सबसे बड़ी वजह है. ऐसे में जहां तक हो सके एक्टिव लाइफ लीड कीजिए.

अगर आप वजन बढ गया है तो ये भी आपके ज्‍वाइंट में दर्द की वजह हो सकता है. दरअसल वजन बढने से आपके घुटनों आदि पर अधिक दबाव पड़ता है और ये दर्द होने लगता है. वजन कम करने के लिए आप हेल्‍दी भोजन करें और जहां तक हो सके फाइबर, विटामिन डी, कैल्शियम आदि से भरपूर भोजन करें.

अगर आप बुजुर्ग हैं और वॉक या जॉगिंग नहीं कर पाते तो आप आस पास किसी फिजियोथेरेपिस्ट से बात करें और आपनी समस्‍या बताएं. दर्द को कम करने के लिए नियमित रूप से घुटनों की मालिश भी फायदेमंद हो सकती है.

एक्यूपंक्चर एक नेचुरल थेरेपी है जो आपके ज्‍वाइंट के दर्द में काफी आराम पहुचा सकता है. इसकी मदद से घुटने या जोड़ों के दर्द को कम करने और सूजन को कम किया जा सकता है.

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close