LIVE TVMain Slideदेशस्वास्थ्य

क्या आपके बच्चे भी हो सकते हैं डिप्रेशन के शिकार जाने यहाँ ?

कई कारणों की वजह से बच्चे तनाव से ग्रस्त हो सकते हैं. जिसकी वजह से बच्चों को गंभीर मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है. उनकी परेशानियों के कई संकेत हो सकते हैं जैसे कि उन्हें सोने और खाने में कठिनाई महसूस होने लगे,

Loading...

बार-बार बुरे सपने दिखाई दें या बिना शारीरिक कारण के पेट में दर्द या सिरदर्द की शिकायत होने लगे. आपको बता दें कि अगर बच्चा अकेले रहने से डरता है या खेलने और खेलकूद वाली गतिविधियों में शामिल होने में रुचि कम रखता है

तो हो सकता है कि वो किसी बात से परेशान हो और उसे मदद की जरूरत हो. बच्चे का उदास रहना और सामान्य से अधिक रोना या बिना किसी स्पष्ट कारण के रोना मानसिक बीमारियों के खतरे की निशानी है.

ऐसे में आपको बहुत प्यार से उसकी मदद करनी होगी.आपको यह जानने की कोशिश करनी होगी कि बच्चे के दोस्त या रिश्तेदार उसे किसी बात को लेकर चिढ़ाते तो नहीं हैं, जो कि उसे पसंद न आता हो या फिर कोई उसे बुली तो नहीं करता.

आप यह भी सुनिश्चित करें कि घर में उसके सामने कोई लड़ाई न करे. उनके माता-पिता उनके साथ और आपस में भी अच्छा बर्ताव करें क्योंकि कई बार घर में होने वाले कलेश को देखकर बच्चों पर मानसिक तौर पर बुरा असर पड़ता है

आपको यह भी देखना होगा कि वह अपने दोस्तों और जानवरों के साथ कैसा बर्ताव करते हैं. यह भी जानना होगा कि वह किसी को चोट तो नहीं पहुंचा रहे क्योंकि कई बच्चे मानसिक तौर पर परेशान होने के कारण आक्रामक होने लगते हैं.

ऐसे में डॉक्टर्स की मदद लें.आपको बता दें कि घर में कोई हादसा होने, किसी की मृत्यु होने या यौन उत्पीड़न का शिकार होने के कारण भी बच्चे तनाव महसूस कर सकते हैं.

आपको बच्चों से बात करते समय उन्हें अपनी बात कहने का अवसर देना होगा. वह क्या महसूस कर रहे हैं, इसके बारे में बात करें. उन्हें उनकी चिंताओं को साझा करने के लिए प्रोत्साहित करें और उनसे सवाल पूछें.

आप उन्हें आराम पहुंचाने की कोशिश करें. कहानियां सुनाना, उनके साथ गाना और खेलना, उनकी सराहना करना हैं, इससे वह आपके साथ सहज महसूस करेंगे. उन्हें उनकी अच्छी आदतों और क्वालिटी के बारे में बताने से उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV