LIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशदेश

मुख्यमंत्री ने पुलिस मुख्यालय में प्रधानमंत्री जी के प्रस्तावित कार्यक्रमों की तैयारियों के सम्बन्ध में निरीक्षण किया साथ ही कोविड संक्रमण से बचाव और उपचार को सुदृढ़ रखने के दिए निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज यहां पुलिस मुख्यालय में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के प्रस्तावित कार्यक्रमों की तैयारियों के सम्बन्ध में निरीक्षण किया। ज्ञातव्य है कि प्रधानमंत्री जी उत्तर प्रदेश के पुलिस मुख्यालय में आयोजित अखिल भारतीय पुलिस महानिदेशक/महानिरीक्षक सम्मेलन में प्रतिभाग करेंगे।

Loading...

मुख्यमंत्री जी ने कार्यक्रम स्थल का अवलोकन किया। उन्होंने सभी व्यवस्थाओं को निर्धारित समय पर पूर्ण कराये जाने के सम्बन्ध में निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 श्री नवनीत सहगल, पुलिस महानिदेशक श्री मुकुल गोयल, मण्डलायुक्त लखनऊ श्री रंजन कुमार एवं जिलाधिकारी श्री अभिषेक प्रकाश सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कोविड संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के प्रभावी क्रियान्वयन से राज्य में कोरोना संक्रमण नियंत्रित स्थिति में है। उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश भी दिए हैं।

मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 12 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 06 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 101 है।
मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि आगरा, अलीगढ़, अमेठी, अमरोहा, अयोध्या, आजमगढ़, बदायूं, बलरामपुर, बांदा, बाराबंकी, बस्ती, बहराइच, भदोही, बिजनौर, चन्दौली, चित्रकूट, एटा, इटावा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, गाजीपुर, गोण्डा, हमीरपुर, हापुड़, हाथरस, जौनपुर, कानपुर नगर, कासगंज, कुशीनगर, महोबा, मैनपुरी, मऊ, मुरादाबाद, प्रतापगढ़, रामपुर, संतकबीरनगर, शामली, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, सोनभद्र और उन्नाव जनपद में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 01 लाख 48 हजार 815 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 08 करोड़ 59 लाख 68 हजार 108 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड टीकाकरण और तेज करने के लिए ठोस प्रयास किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इसके लिए घर-घर जाकर सर्वेक्षण किया जाए। लक्षित आयु वर्ग के जिन लोगों ने अभी तक टीके की खुराक नहीं ली है, उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कहा कि दिव्यांग, निराश्रित तथा वृद्धजनों से सम्पर्क कर उनका टीकाकरण कराएं। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी, ग्राम प्रधानों व पार्षदों का सहयोग लें।

बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि राज्य में गत दिवस तक 14 करोड़ 40 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। कोविड टीकाकरण की दोनों खुराक पाने वाले लोगों की संख्या प्रदेश में सर्वाधिक है। यहां 04 करोड़ 05 लाख से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है। 10 करोड़ 35 लाख लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है। यह संख्या टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की कुल आबादी की 70 प्रतिशत से अधिक है।

बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि प्रदेश में जीका वायरस की पॉजिटिविटी दर में निरन्तर कमी आ रही है। मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया कि जीका वायरस से संक्रमित प्रत्येक मरीज के स्वास्थ्य की सतत निगरानी की जाये। ट्रेसिंग व टेस्टिंग को और तेज किया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रदूषण की समस्या के स्थायी निदान के लिए नियोजित प्रयास की आवश्यकता है। इसके दृष्टिगत लोगों को निजी वाहन के स्थान पर परिवहन के सार्वजनिक साधनों के उपयोग के लिए प्रोत्साहित किया जाए। किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूक किया जाए। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हाल के दिनों में नगर निकायों में शामिल हुए ग्रामीण क्षेत्रों में नगरीय विकास की सभी सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश सरकार छात्र-छात्राओं को डिजिटल शक्ति प्रदान करने के उद्देश्य से टैबलेट/स्मार्टफोन उपलब्ध कराने जा रही है। उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में सभी आवश्यक तैयारी समय से पूर्ण कर ली जाएं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में धान खरीद प्रारम्भ हो गयी है। यह सुनिश्चित किया जाए कि समस्त धान क्रय केन्द्रों पर व्यवस्था सुचारु बनी रहे। जिलाधिकारी धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण करें। जनपदों में तैनात नोडल अधिकारी पूरी तरह सक्रिय रहे। उन्होंने कहा कि किसानों को समय से उनकी उपज के मूल्य का भुगतान किया जाए।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV