LIVE TVMain Slideखबर 50देश

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सप्ताह के अन्तर्गत आकांक्षी जनपदों के अतिरिक्त वाराणसी, गोरखपुर एवं देवरिया का किया गया चयन

उत्तर प्रदेश सरकार ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में मनाये जा रहे ‘‘भारत का अमृत महोत्सव’’ कार्यक्रम के अन्तर्गत आगामी 01 दिसम्बर से 07 दिसम्बर, 2021 तक प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सप्ताह मनाये जाने का निर्णय लिया है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करना, योजना के सम्बन्ध में किसानों की जिज्ञासाओं का समाधान करना तथा योजना में किसानों की सहभागिता बढ़ाना है। इस सम्बन्ध में अपर मुख्य सचिव कृषि, डॉ0 देवेश चतुर्वेदी की ओर से समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश जारी कर दिये गये हैं।
डॉ0 चतुर्वेदी ने बताया कि भारत सरकार की ओर से जारी निर्देशों में प्रदेश के आकांक्षी जनपदों एवं जनजातीय बाहुल्य जनपदों को शामिल करते हुये प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का गहन प्रचार-प्रसार कर किसानों की भागीदारी बढ़ाये जाने की अपेक्षा की गयी है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार एवं किसानों की सहभागिता बढ़ाये जाने हेतु प्रदेश सरकार द्वारा आकांक्षी जनपदों में बहराइच के नवाबगंज, श्रावस्ती के सिरसिया, बलरामपुर के उतरौला, सिद्धार्थनगर के लोटन, फतेहपुर के विजयीपुर, चित्रकूट के रामनगर, सोनभद्र के चतरा, चंदौली के नौगढ़ ब्लॉक का चयन किया गया है। इसके अतिरिक्त वाराणसी के सेवापुर, गोरखपुर के कैम्पियरगंज तथा देवरिया के पथरदेवा ब्लॉक का भी चयन किया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सप्ताह चयनित जनपदों के अवशेष ब्लाकों एवं योजना से आच्छादित अन्य जनपदों में भी मनाया जायेगा।
कृषि मंत्री, श्री सूर्य प्रताप शाही दिनांक 01 दिसम्बर, 2021 को पूर्वाहन 10ः00 बजे कृषि निदेशालय से चयनित जनपदों के लिए प्रचार वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करेंगे। प्रचार वाहनों द्वारा लोकगीत एवं योजना से सम्बन्धित फिल्म का प्रदर्शन करते हुये योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जायेगा। जनपद मुख्यालय पर आयोजित बैठक/कैम्प में बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि द्वारा फसल बीमा से सम्बन्धित विस्तृत जानकारी दी जायेगी। इस अवसर पर योजना से सम्बन्धित फिल्म का प्रदर्शन किया जायेगा। योजना से सम्बन्धित किसानों की शंकाओं का समाधान मौके पर उप कृषि निदेशक द्वारा किया जायेगा। समस्त कार्यों का सम्पादन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जनपद में नामित नोडल अधिकारी, उप कृषि निदेशक द्वारा किया जायेगा।उत्तर प्रदेश सरकार ने भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में मनाये जा रहे ‘‘भारत का अमृत महोत्सव’’ कार्यक्रम के अन्तर्गत आगामी 01 दिसम्बर से 07 दिसम्बर, 2021 तक प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सप्ताह मनाये जाने का निर्णय लिया है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करना, योजना के सम्बन्ध में किसानों की जिज्ञासाओं का समाधान करना तथा योजना में किसानों की सहभागिता बढ़ाना है। इस सम्बन्ध में अपर मुख्य सचिव कृषि, डॉ0 देवेश चतुर्वेदी की ओर से समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश जारी कर दिये गये हैं।
डॉ0 चतुर्वेदी ने बताया कि भारत सरकार की ओर से जारी निर्देशों में प्रदेश के आकांक्षी जनपदों एवं जनजातीय बाहुल्य जनपदों को शामिल करते हुये प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का गहन प्रचार-प्रसार कर किसानों की भागीदारी बढ़ाये जाने की अपेक्षा की गयी है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार एवं किसानों की सहभागिता बढ़ाये जाने हेतु प्रदेश सरकार द्वारा आकांक्षी जनपदों में बहराइच के नवाबगंज, श्रावस्ती के सिरसिया, बलरामपुर के उतरौला, सिद्धार्थनगर के लोटन, फतेहपुर के विजयीपुर, चित्रकूट के रामनगर, सोनभद्र के चतरा, चंदौली के नौगढ़ ब्लॉक का चयन किया गया है। इसके अतिरिक्त वाराणसी के सेवापुर, गोरखपुर के कैम्पियरगंज तथा देवरिया के पथरदेवा ब्लॉक का भी चयन किया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सप्ताह चयनित जनपदों के अवशेष ब्लाकों एवं योजना से आच्छादित अन्य जनपदों में भी मनाया जायेगा।
कृषि मंत्री, श्री सूर्य प्रताप शाही दिनांक 01 दिसम्बर, 2021 को पूर्वाहन 10ः00 बजे कृषि निदेशालय से चयनित जनपदों के लिए प्रचार वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करेंगे। प्रचार वाहनों द्वारा लोकगीत एवं योजना से सम्बन्धित फिल्म का प्रदर्शन करते हुये योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जायेगा। जनपद मुख्यालय पर आयोजित बैठक/कैम्प में बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि द्वारा फसल बीमा से सम्बन्धित विस्तृत जानकारी दी जायेगी। इस अवसर पर योजना से सम्बन्धित फिल्म का प्रदर्शन किया जायेगा। योजना से सम्बन्धित किसानों की शंकाओं का समाधान मौके पर उप कृषि निदेशक द्वारा किया जायेगा। समस्त कार्यों का सम्पादन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जनपद में नामित नोडल अधिकारी, उप कृषि निदेशक द्वारा किया जायेगा।

Loading...
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV