LIVE TVMain Slideदेशबिहार

बिहार में कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए सरकार ने सतर्कता बरतने का दिया निर्देश

बिहार में कोरोना की तीसरी लहर और ओमिक्रॉन को लेकर जिस तरह से सरकार ने सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है, ऐसे में अब एक एक लापरवाही जिंदगी पर भारी पड़ सकती है.

Loading...

राज्य में पिछले 24 घंटे में कोरोना मरीजों में की संख्या में हुई वृद्धि के बाद खतरा फिर से बढ़ने लगा है. बता दें कि बीते गुरुवार शाम को बिहार में 24 घंटे में एक साथ 17 लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई है. इनमें सबसे अधिक 14 कोरोना पॉजिटिव मरीज पटना जिले में मिले हैं.

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े के अनुसार राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर अब 49 तक पहुंच गई है. पटना में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 35 पर पहुंच गई है.

बेगूसराय, गया और नालंदा में भी एक-एक पॉजिटिव मरीज मिले हैं. सीएम नीतीश कुमार के निर्देश के बाद राज्य में सैम्पल जांच में भी तेजी देखी जा रही है. 24 घंटे में कुल 1 लाख 63 हजार 136 सैम्पल्स की जांच हुई है.

बता दें कि कोरोना संक्रमण को लेकर नवंबर तक हालात भले ही नियंत्रित दिखा है, लेकिन दिसंबर की शुरुआत से ही आंकड़े बढ़ने लगे हैंं. यानि 1 दिसंबर को 2 पॉजिटिव, 2 दिसंबर को 5 पॉजिटिव,

3 दिसंबर को एक भी नहीं, 4 दिसंबर को 1, वहीं 5 दिसंबर को 6 पॉजिटिव, 6 दिसंबर को 7 पॉजिटिव, 8 दिसंबर को 9 पॉजिटिव जबकि 9 दिसंबर को सबसे ज्यादा 17 पॉजिटिव मिले हैं.

हालांकि स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सभी अस्पतालों को अलर्ट किया गया है और आईसीयू से लेकर जेनरल बेड और कोविड के नोडल पदाधिकारी , पारा मेडिकल और नर्सिंग स्टाफ की कोविड वार्ड में प्रतिनियुक्ति भी कर दी गई है. पटना के एनएमसीएच में 100 ऑक्सीजनयुक्त बेड की व्यवस्था की गई है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV