प्रदेश

सन्यासियों के श्रमदान कार्यक्रम में सांसद, मंत्री और नेता भी पहुंचे

सप्तसागरों में एक गोवर्धन सागर को बचाने का अभियान गुुरुवार को गति पकड़ गया। रामदल के सन्यासियों के श्रमदान कार्यक्रम में मंत्री मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक पारस जैन, पूव विधायक राजेंद्र भारती, कांग्रेस नेता विवेक यादव और शहर काजी के भाई शम्सुरहमान भी पहुंचे। छह दिन पहले रामदल के संतों ने गोवर्धनसागर पर सप्तसागर के विकास के लिए धरना शुरु किया था। कलेक्टर आशीष सिंह से मुलाकात के बावजूद संतों ने गुरुवार को श्रमदान करने का ऐलान किया था, इसी कड़ी में श्रमदान शुरु किया गया। संतों ने कहा कि सप्तसागरों की दुर्दशा से संत समाज चिंतित है और सत्ता और अधिकारियों को जगाने के लिए धरना शुरु किया था। आज इसी कड़ी में श्रमदान कार्य शुरु किया है। सभी के सहयोग से यह काम किया जाएगा। श्रमदान के पहले पूजन-पाठ किया गया। पं. राजेश त्रिवेदी ने पूजन पूरा कराया। फिर पोकलेन की मदद से सागर की सफाई का अभियान शुरु किया। सागर में बड़ी-बड़ी घास है। पहले चरण में इसे हटाया जा रहा है। शुरुआत में उस जमीन की सफाई की जा रही है, जो विवादित नहीं है। श्रम कार्य के लिए मोहन यादव ने एक लाख 11 हजार रुपए, अनिल फिरोजिया और पारस जैन ने 51-51 हजार रुपए, भाजपा नगर अध्यक्ष विवेक जोशी और शहर काजी के भाई शम्सुरहमान और पूर्व पार्षद कुतुब फातेमी ने 11-11 हजार रुपए और कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष विवेक यादव ने 21 हजार रुपए देने का ऐलान किया। मोहन यादव ने कहा कि उज्जैन में जल संरचनाओं का पुराना इतिहास रहा है। सप्तसागर इन्हीं संरचनाओं में शामिल है। आज गोवर्धन सागर से संरचनाओं को संरक्षित करने का काम शुरु हुआ है। इस काम में सरकार की तरफ से किसी तरह की अड़चन नहीं आने दी जाएगी। महंत ज्ञानदास ने कहा गोवर्धन सागर का काम शुरु होने के साथ ही हम संतों की तपस्या सफल हो गई। अब सप्तसागर विकसित हो जाएंगे।  

Loading...
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV