Main Slideजम्मू कश्मीरप्रदेश

अभी-अभी: पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर उल्लंघन, 4 जवान शहीद

पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। मंगलवार रात एक बार फिर पाकिस्तानी रेंजर्स ने घात लगाकर हमला करते हुए दो अधिकारियों समेत 4 सीमा प्रहरियों को शहीद कर दिया। सीजफायर पर जम्मू सीमा क्षेत्र के बीएसएफ एडीजी कमल नाथ चौबे ने कहा कि सीजफायर हमेशा द्विपक्षीय फैसला होता है। हमने हमेशा सीजफायर की शुचिता को बरकरार रखा लेकिन पाकिस्तान ने इसका उल्लंघन किया है। उन्होंने आगे कहा कि युद्धविराम हो या न हो, हम हमेशा तैयार रहते हैं। सीमा के क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए आवश्यक हर उपकरण को बनाए रखा जाता है।

Loading...

पाकिस्तान ने मंगलवार रात पौने दस बजे के करीब पहले सांबा सेक्टर के रामगढ़ में नारायणपुर की चमलियाल पोस्ट पर पैट्रोलिंग कर रहे सीमा प्रहरियों पर स्नापर फायर किए व इसके बाद घायलों के बचाव में आए दल को निशाना बनाते हुए मोर्टार के गोले दागना शुरू कर दिया। यह हमला जम्मू में दोनों ओर के सीमा प्रहरियों के बीच सेक्टर कमांडर स्तर की फ्लैग मीटिंग के एक हफ्ते के बाद हुआ। शहीदों की पहचान सीमा सुरक्षा बल की 62 बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट जितेन्द्र सिंह, सब इंस्पेक्टर रजनीश, सहायक सब इंस्पेक्टर राम निवास व कांस्टेबल हंस राज के रूप में हुई है। जितेन्द्र सिंह राजस्थान के जयपुर के निवासी हैं।

सीमा सुरक्षा बल ने इस पाकिस्तान रेंजर्स की नापाक हरकत करार देते हुए सीमा प्रहरियों पर पाकिस्तान की बार्डर एक्शन टीम का हमला होने से इंकार किया है। तीन सीमा प्रहरी मंगलवार देर रात को ही शहीद हो गए जबकि घायल रजनीश ने जम्मू के सैन्य अस्पताल में दम तोड़ दिया। इस हमले में पांच सीमा प्रहरियों के घायल होने की सूचना है। जिस इलाके में पाकिस्तान ने हमला किया है वहां पर 28 जून को बाबा दिलीप सिंह की मजार पर सीमा के दोनों ओर बाबा चमलियाल मेला लगना था।

सीमा सुरक्षा बल जम्मू फ्रंटियर के आई राम अवतार ने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने पहले हमारी पैट्रोल पार्टी को गोलीबारी कर निशाना बनाया। इसमें कुछ जवान घायल हो गए, बाद में उन्हें बचाने के लिए आई सीमा सुरक्षा बल की रेस्कयू टीम पर पाकिस्तान ने दो मोर्टार के गोले दाग दिए।

जून के पहले हफ्ते सीमा पर भारी गोलाबारी करने के बाद पाकिस्तान ने सेक्टर कमांडर स्तर की फ्लैग मीटिंग में वादा किया था कि वह शांति कायम करने में पूरा सहयोग देगा, लेकिन हर बार की तरह वह खरा नहीं उतरा। बीएसएफ सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तानी रेंजर्स ने रात करीब दस बजे रामगढ़ सब-सेक्टर की नारायणपुर व बाबा चमलियाल की दरगाह के निकट बीएसएफ पोस्ट के बीच गश्त कर रहे जवानों को निशाना बनाकर गोलियां दागी।

बाबा चमलियाल की दरगाह पर अगले सप्ताह वार्षिक मेले का आयोजन भी होना है। सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान ने अपनी अशरफ व सेदनवाली पोस्ट से फायरिंग की, जहां चिनाब रेंजर्स तैनात हैं। बीएसएफ ने भी पाकिस्तान को उचित जवाब दिया। इस घटना के बाद घुसपैठ की आशंका को देखते हुए बीएसएफ से सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है। देर रात तक सीमा पर रुक-रुक कर गोलीबारी जारी रही।

बता दें कि पाकिस्तान की ओर से पिछले कुछ समय में सीजफायर उल्लंघन की घटनाओं में काफी तेजी आई है। पाक रेंजर्स के जवानों ने शनिवार को भी अखनूर के परगवाल सेक्टर में भारी गोलाबारी की थी जिसके कारण बीएसएफ के दो जवान जवाबी कार्रवाई में शहीद हो गए थे। गौरतलब है कि पाकिस्तान द्वारा सीजफायर उल्लंघन की घटनाएं उस वक्त हो रही है, जब पिछले ही दिनों भारत-पाक के बीच डीजीएमओ स्तर पर सीमा पर शांति बहाल करने की दिशा में कदम उठाने का फैसला किया गया था।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close