देश

मंत्रियो को पी एम मोदी ने दिया सख्त निर्देश, कहा मंत्रालयों में अपने रिश्तेदार को नियुक्त न करे

edited by vibha -प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को एक बैठक में  अपनी कैबिनेट के मंत्रियों से कहा कि वे ऐसा कोई दावा न करें, जो पूरे ना किए जा सकें. इतना ही नहीं पी एम  मोदी ने अपने मंत्रियों को सख्त हिदायत भी दी और  कहा कि वे अपने मंत्रालयों में सलाहकारों की भूमिका में अपने किसी भी  रिश्तेदारों को नियुक्त न करें.

Loading...

सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय मंत्री परिषद की बैठक की अध्यक्षता करते हुए मोदी ने मीडिया और सार्वजनिक तौर पर गैर जरूरी टिप्पणियों का हवाला दिया और मंत्रियों से साफ़ शब्दों में  कहा कि वे केवल तथ्यों को बताएं और वही दावे करें, जो पूरे किए जा सकें.

पी एम   मोदी ने कहा  शासन की ‘गति’ और ‘दिशा’ में सुधार करने के लिए  कैबिनेट मंत्रियों और राज्य मंत्रियों के बीच बेहतर तालमेल  होना बहुत आवश्यक है |

मोदी ने मंत्रियों से कहा कि उनका संवाद अपने मंत्रालयों के सचिवों जैसे शीर्ष अधिकारियों तक सीमित नहीं होनी चाहिए. उनका संवाद पदक्रम में अपेक्षाकृत निचले स्तर के अधिकारियों जैसे संयुक्त सचिवों, निदेशकों और उप सचिवों से भी होना चाहिए ताकि इन अधिकारियों को लगे कि वे भी टीम का एक  हिस्सा हैं|

वही मोदी ने यह भी  कहा कि मंत्रियों को अधिकारियों को प्रोत्साहित और उत्साहित भी  करना चाहिए|

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मंत्रियों को सुबह साढ़े नौ बजे तक दफ्तर पहुंच जाना चाहिए और कुछ मंत्रियों को उनके निर्देश पर ध्यान देने की जरूरत है और उन्हें यह करना चाहिए.उन्होंने कई बार अपने कैबिनेट सहयोगियों को अनुशासन, समय की पाबंदी और काम करने की प्रतिबद्धता पर काम करने के लिए कहा है.

उन्होंने कहा कि सीनियर मंत्री  अगर अपने समय पर ध्यान  देंगे  तो इसका प्रभाव उनके संबंधित मंत्रालयों की रचनात्मकता और दक्षता पर और समूची सरकार के कामकाज पर भी पड़ेगा.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV