उत्तर प्रदेशप्रदेश

इनामी शूटरों की तलाश में दो टीमों की छापामारी

प्रापर्टी डीलर सोनू यादव हत्याकांड में शामिल तीन शूटरों की तलाश में पुलिस की दो टीमें छापामारी कर रही हैं। फरार चल रहे मुख्य आरोपित सोनू पासी और उसके दो साथियों पर पंद्रह पंद्रह हजार का इनाम घोषित है। 50 हजार के इनामी गदऊ पासी से इस गिरोह की दुश्मनी चल रही है। ऐसे में पुलिस सतर्क है कि कहीं सोनू यादव की हत्या का बदला लेने को गदऊ हमला न कर दे।

Loading...

सोनू यादव हत्याकांड में पुलिस ने

अनिल उर्फ मोनू पासी, नीरज उर्फ गोलू, मनीष यादव उर्फ पप्पी, संदीप भारतीया, राजा भइया उर्फ विशाल, गौतम भारतीया और बंटी पाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्याकांड में सभी नामजद थे और 15-15 हजार रुपये का इनाम भी था। गिरफ्त में आए अभियुक्तों के पास से दो पिस्टल, तीन तमंचा, 13 कारतूस और चार बम बरामद हुए हैं। कत्ल की अहम वजह 50 हजार के इनामी गदऊ पासी की धमकी रही। एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि सोनू यादव, गदऊ पासी का साथी था। गदऊ सोनू के जरिए स्थानीय लोगों को डरा-धमका कर रंगदारी वसूलता था। साथ ही वह गदऊ का विरोध करने या उसके बारे में जानकारी देने वाले लोगों को चिंहित कर रास्ते से हटाने की योजना बनाता था। ऐसा पकड़े गए आरोपितों ने पूछताछ में बताया है। मोनू पासी ने पुलिस को यह भी बताया कि घटना वाले दिन जब क्राइम ब्रांच की टीम गदऊ की तलाश कर रही थी, तभी सोनू यादव ने धमकाया था कि सब मारे जाएंगे। इसके बाद ही तनातनी हुई तो घर में घुसकर उसकी हत्या की गई। एसएसपी ने यह भी बताया कि वांछित सोनू व दो अन्य की तलाश चल रही है। वारदात को अंजाम देने वालों पर एनएसए भी लगाया जाएगा। उन्होंने इंस्पेक्टर धूमनगंज संजय द्विवेदी व क्राइम ब्रांच की टीम को इनाम देने की घोषणा की।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close