Main Slideउत्तर प्रदेशट्रेंडिगदेशप्रदेशबड़ी खबर

केंद्र सरकार ने किया एक बड़ा दावा कहा खुले में शौच से मुक्त हुआ ग्रामीण भारत

खुले में शौच से भारत को मुक्त करने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुहिम का एक बड़ा असर हुआ है। ग्रामीण भारत अब खुले में शौच से पूरी तरह मुक्त हो गया है। बता दे की 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत की थी और उन्होंने ऐलान किया था कि 2 अक्टूबर, 2019 को भारत खुले में शौच से मुक्त हो जाएगा।

Loading...

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी जयंती के मौके पर 02 अक्टूबर 2019 को भारत को खुले में शौच मुक्त घोषित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि ग्रामीण भारत ने खुद को खुले में शौच मुक्त घोषित किया। साथ ही प्रधानमंत्री ने ये भी कहा कि केवल शौचालयों का निर्माण ही काफी नहीं है बल्कि इनके उपयोग को आदत का हिस्सा बनाना भी बहुत जरूरी है। प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद के साबरमती में आयोजित ‘स्वच्छ भारत दिवस’ कार्यक्रम में इसकी घोषणा की। प्रधानमंत्री मोदी ने घोषणा की कि भारत ने बड़े पैमाने पर स्वच्छ भारत मिशन के तहत 60 महीने में 60 करोड़ से अधिक लोगों को शौचालय मुहैया कराने और 11 करोड़ से अधिक शौचालय बनाकर पूरी दुनिया को चकित कर दिया है।

साथ ही जल शक्ति मंत्रालय में राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्रामीण भारत खुले में शौच से 100 फीसदी मुक्त हो गया है। उन्होंने कहा कि इसके तहत देशभर के 5 लाख 99 हजार 963 गांव ने खुद को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया उन्होंने कहा जो लक्ष्य तय किया था,पूरा कर लिया गया है। इस कार्यक्रम के तहत 28 नवंबर तक देश के 10.14 करोड़ घरों में शौचालय का निर्माण कराया गया है।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV