Main Slideउत्तर प्रदेश

तकनीक के जरिए अच्छी शिक्षा देने वाले 43 शिक्षको को सम्मानित किया गया, जिसमे बिहार और झारखंड से एक भी शिक्षक नही थे .

मानव संसाधन विकास मंत्री ने सम्मानित शिक्षकों से मुलाकात के बाद कहा कि प्रस्तावित नई शिक्षा नीति में भी स्कूली शिक्षा में तकनीक के ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल पर जोर दिया गया है।

Loading...

स्कूलों में तकनीक के जरिए बच्चों को पढ़ाने में जुटे ऐसे शिक्षकों को चयन मानव संसाधन मंत्रालय की ओर से आईटीसी (इनफार्मेशन एवं कम्यूनिकेशन टेक्नालॉजीज) -2017 के नाम से आयोजित प्रतिस्पर्धा के जरिए किया गया है। जिसमें देश के सभी राज्यों से ऐसे शिक्षकों के प्रस्ताव मांगे गए थे, जो स्कूलों में एप (एप्लीकेशन) या फिर वीडियो के जरिए बच्चों को बेहतर शिक्षा दे रहे है।

राज्य से शिक्षकों के नाम प्रस्तावित किए जाने के बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय की कमेटी ने इस शिक्षकों की तकनीक को जांचा। बाद में बच्चों के लिए उसे उपयोगी पाए जाने पर उनका चयन किया गया।

स्कूलों में बच्चों को तकनीक के जरिए बेहतर तरीके से शिक्षा दे रहे देश के 43 शिक्षकों को केंद्र सरकार ने सोमवार को सम्मानित किया है। सम्मानित होने वाले शिक्षकों में उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के तीन-तीन शिक्षक है, जबकि बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के एक भी शिक्षक का इनमें चयन नहीं हो सका है।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV