Main Slideदेश

अल्फाबेट / पहली बार यूट्यूब का रेवेन्यू बताया, पिछले साल 1 लाख करोड़ रुपए रहा; कुल रेवेन्यू में इसकी 9% हिस्सेदारी

गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई।

कैलिफॉर्निया. सुंदर पिचाई के सीईओ बनने के बाद गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट ने नई शुरुआत की है। कंपनी ने पहली बार यूट्यूब ऐड और क्लाउड का रेवेन्यू घोषित किया है। पिछले साल यूट्यूब का ऐड रेवेन्यू 36% बढ़कर 15.15 अरब डॉलर (1 लाख करोड़ रुपए) रहा। 2018 में 11.16 अरब डॉलर (79 हजार करोड़ रुपए) था। यूट्यूब ऐड के साल भर के रेवेन्यू में 4.72 अरब डॉलर (33 हजार 681 करोड़ रुपए) अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के हैं। दिसंबर तिमाही में अल्फाबेट का कुल रेवेन्यू 17% बढ़कर 46 अरब डॉलर (3.28 लाख करोड़ रुपए) रहा। पूरे साल में रेवेन्यू (12.26 लाख करोड़ रुपए) रहा। पिचाई के नेतृत्व में अल्फाबेट ने पहली बार तिमाही और सालाना नतीजे घोषित किए। पिचाई 4 दिसंबर को अल्फाबेट के सीईओ बने थे। वे गूगल के सीईओ की जिम्मेदारी पहले से ही संभाल रहे हैं।

Loading...

दिसंबर तिमाही में अल्फाबेट को 75 हजार 641 करोड़ रुपए का मुनाफा
क्लाउड बिजनेस से 8.92 अरब डॉलर (63 हजार 653 करोड़ रुपए) की आय हुई, 2018 में यह आंकड़ा 5.84 अरब डॉलर (41 हजार 674 करोड़ रुपए) था। हालांकि, कंपनी ने इन दोनों सेगमेंट के मुनाफे की जानकारी नहीं दी। दिसंबर तिमाही में कंपनी का कुल मुनाफा 19% बढ़कर 10.6 अरब डॉलर (75 हजार 641 करोड़ रुपए) रहा। 2018 की इसी तिमाही में 8.94 अरब डॉलर (63 हजार 595 करोड़ रुपए) था। अल्फाबेट की सीएफओ रूथ पोरट ने बताया कि दिसंबर तिमाही में नॉन एडवरटाइजिंग रेवेन्यू 3 अरब डॉलर (21 हजार 408 करोड़ रुपए) रहा। निवेशक लंबे समय से यह मांग कर रहे थे कि यूट्यूब के आकंड़े अलग से बताने चाहिए, क्योंकि ऐड रेवेन्यू में इसकी बड़ी हिस्सेदारी होती है।

माइक्रोसॉफ्ट के मुकाबले अल्फाबेट के क्लाउड बिजनेस की ग्रोथ धीमी
दिसंबर तिमाही में क्लाउड बिजनेस का रेवेन्यू 2.61 अरब डॉलर (18 हजार 624 करोड़ रुपए) रहा। 2018 की इसी तिमाही में 1.71 अरब डॉलर (12 हजार 205 करोड़ रुपए) था। अल्फाबेट का क्लाउड बिजनेस नया है, लेकिन तेजी से बढ़ रहा है। कंपनी ने पिछले साल जुलाई में बताया था कि क्लाउड का सालाना रेवेन्यू 8 अरब डॉलर तक (57 हजार करोड़ रुपए) पहुंच पाया है। अगले कुछ सालों में इसे तीन गुना तक ले जाने का लक्ष्य है। अल्फाबेट के क्लाउड बिजनेस का अमेजन वेब सर्विसेज और माइक्रोसॉफ्ट अजुरे से मुकाबला है। दिसंबर तिमाही में अल्फाबेट के क्लाउड बिजनेस की रेवेन्यू ग्रोथ 53% रही। इसी तिमाही में माइक्रोसॉफ्ट अजुरे के रेवेन्यू में 62% ग्रोथ रही।

नतीजे अनुमान के मुताबिक नहीं, इसलिए अल्फाबेट का शेयर 4.5% गिरा
विश्लेषकों को अल्फाबेट का रेवेन्यू 46.9 अरब डॉलर (3.34 लाख करोड़ रुपए) रहने की उम्मीद थी। रेवेन्यू ग्रोथ पिछली तिमाहियों के मुकाबले भी कम रही। सितंबर तिमाही में 20% और जून तिमाही में 19% रही थी। नतीजे विश्लेषकों के अनुमान के मुताबिक नहीं रहने की वजह से अल्फाबेट के शेयर में सोमवार को 4.5% गिरावट आ गई थी।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV