Main Slideदेश

बंगाल में बीजेपी कर रही नेताओं के कामों का आकलन, बड़े फेरबदल की तैयारी

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष

राज्य में 2021 में होने वाले विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल में बीजेपी के प्रदेश संगठन में बड़े फेरबदल की तैयारी चल रही है। पार्टी नेताओं के परफॉर्मेंस का आकलन हो रहा है ताकि निष्क्त्रिस्य नेताओं को पद से हटाकर युवा और सक्त्रिस्य कार्यकर्ताओं को संगठन में जगह दी जा सके। पार्टी की प्रदेश इकाई  में पदों पर बैठे सभी नेताओं के कामकाज की समीक्षा हो रही है। इसी आधार पर यह फैसला होगा कि अगली कमिटी में उन्हें जगह मिलेगी या नहीं।

अच्छे प्रदर्शन पर ही अगली कमिटी में जगह

पार्टी के एक नेता ने बताया कि प्रदर्शन के आकलन में पिछले दो महीनों में सीएए-समर्थन अभियान में राज्य के नेताओं की भागीदारी और सक्त्रिस्यता बड़ी भूमिका अदा करेगी। पार्टी जिलों में भी अपने संगठन को चुस्त-दुरूस्त करेगी ताकि चुनावी अभियान में सभी घटकों के बीच समन्वय बना रहे।

Loading...

करीब एक सप्ताह पहले दिलीप घोष को लगातार दूसरी बार प्रदेश बीजेपी का अध्यक्ष चुने जाने के बाद यह कवायद शुरू की गई है। घोष ने माना कि राज्य कमिटी में बदलाव किया जा रहा है और अंतिम सूची पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व से विचार-विमर्श के बाद तैयार की जाएगी। कमिटी में नए चेहरों को जगह देने के बारे में पूछने पर घोष ने कहा, बस कुछ दिन और इंतजार कीजिए, सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा।

दूसरी पार्टियों से आए लोगों को भी मिलेंगे पद

घोष के चुनाव के ठीक बाद केंद्रीय नेताओं की मौजूदगी में हुई एक बैठक में निष्क्त्रिस्य नेताओं को पदों से हटाने का फैसला लिया गया था राज्य बीजेपी के एक बड़े नेताओं ने बताया कि पूरे संगठन में बदलाव होंगे। आरएसएस और बीजेपी के अलावा उन बोगों को भी पदों पर बिठाया जाएगा जो दूसरी पार्टियों से आए हैं।

अभी प्रदेश नेताओं के प्रदर्शन का आकलन किया जा रहा है। उनके प्रदर्शन को कई मापदंडों पर परखा जा रहा है, जैसे संगठन की क्षमता, काम करने का तरीका, चुनावों के दौरान सक्त्रिस्यता आदि। वे नेता ही अगली कमिटी में जगह हासिल कर पाएंगे जिनका प्रदर्शन उम्मीदों पर खरा उतरेगा।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV