ASAMMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50ट्रेंडिगदेशबड़ी खबर

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों से 2.39 करोड़ वसूला जुर्माना

कोरोनावायरस महामारी को देखते हुए पूरे देश में लॉकडाउन है. इसकी वजह से लोगों को सड़कों पर आने की इजाज़त नहीं है. वाजिब वजह के साथ ही घर से निकलने की इजाजत है. बावजूद इसके उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर लॉकडाउन तोड़ने के मामले सामने आए हैं. ऐसे मामलों में संपूर्ण लॉकडाउन के चौथे दिन 28 मार्च को यूपी में 4698 एफआईआर दर्ज की गई.लॉक डाउन का फायदा उठाकर जमाखोरी और कालाबाजारी करने के मामलों में 47 एफआईआर दर्ज की गई हैं. लॉकडाउन तोड़ने वाले वाहनों से 2.39 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला गया. इससे पहले प्रदेश में 5220 बैरियर लगाकर 4.89 लाख वाहनों की चेकिंग कर 1.11 लाख वाहनों के चालान हुए और 9577 वाहन सीज़ किए गए.

एडीजी पीवी रामाशास्त्री के मुताबिक, सभी जिलों के कप्तानों को लॉकडाउन तोड़ने पर कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं. इसके साथ ही कालाबाजारी करने वालों और जमाखोरों के खिलाफ भी सख़्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं.बता दें देशभर में लागू लॉकडाउन के बावजूद लोगों का पलायन रुकने का नाम नहीं ले रहा है. देश के अलग-अलग राज्यों से लोग अपने-अपने घरों को पैदल ही निकल रहे हैं. इस बीच पिछले तीन दिनों में एक लाख लोग उत्तर प्रदेश पहुंचे हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश्ग दिए हैं कि इन लोगों को क्वारंटाइन में रखा जाए राज्य सरकार के एक प्रवक्ता के मुताबिक, मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा है कि पिछले तीन दिनों में एक लाख लोग देश के अलग-अलग राज्यों से प्रदेश में पहुंचे हैं. इन सभी लोगों के नाम, पता और मोबाइल नंबर जिलाधिकारियों को मुहैया कराए गए हैं और उनकी मॉनिटरिंग की जा रही है. मुख्यमंत्री ने इन सभी लोगों को क्वारंटाइन में रखने और उन्हें खाने के साथ ही अन्य जरुरी वस्तुओं को उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं.

Related Articles

Back to top button