उत्तर प्रदेशप्रदेश

लविवि में आज से शुरू होगा कामकाज, पढ़ाई-काउंसिलिंग मंगलवार से

लखनऊ विश्वविद्यालय (लविवि) में कुलपति व शिक्षकों पर हुए हमले को लेकर अभी तक शिक्षकों का गुस्सा शांत नहीं हुआ है। वह एसएसपी दीपक कुमार पर कार्रवाई की मांग को लेकर अड़े हुए हैं। वहीं 22 अन्य आरोपी छात्रों की भी जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। शुक्रवार को लविवि शिक्षक संघ (लूटा) की जनरल बॉडी की बैठक में इसे लेकर हंगामा भी हुआ। फिलहाल 48 घंटे का समय उन्होंने दिया है, इसके बाद वह रीव्यू करेंगे। लूटा अध्यक्ष प्रो. दिनेश कुमार व महामंत्री डॉ. दुर्गेश श्रीवास्तव ने कहा कि मंगलवार से काउंसिलिंग के साथ-साथ टीचिंग भी शुरू हो जाएगी। तब तक न्यायालय के सख्त रुख पर पुलिस-प्रशासन और ठोस कार्रवाई करेगा, ऐसा हमारा भरोसा है। उन्होंने बैठक में माननीय उच्च न्यायालय के सख्त रुख पर आभार व्यक्त किया और शासन के सहयोग पर भी धन्यवाद दिया।

Loading...

उधर, कुलपति प्रो. एसपी सिंह ने घोषणा की कि वह शनिवार से ही कामकाज शुरू करवा रहे हैं। नए सत्र की तैयारियों को लेकर सुबह 11 बजे विभागाध्यक्षों व डीन की बैठक बुलाई गई है। उधर पीजी काउंसिलिंग का नया कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। लविवि में शुक्रवार को भी कैंपस में पूरी तरह सन्नाटा छाया रहा। सिर्फ स्टॉफ क्लब में ही गहमा-गहमी थी। यहां लूटा जनरल बॉडी की बैठक में शिक्षक हमले पर अपना आक्रोश जाहिर कर रहे थे। उन्होंने स्पष्ट कहा कि इतनी बड़ी घटना को एसएसपी ने बहुत हल्के में लिया, अगर वह समय पर फोर्स भेज देते तो इस तरह शिक्षकों की पिटाई न होती और न उनके कपड़े फाड़े जाते। आम छात्रों के हितों का ध्यान रखते हुए काम पर लौटना होगा : कुलपति

फिलहाल लविवि का नया सत्र 10 जुलाई यानी मंगलवार से शुरू हो रहा है। ऐसे में तब-तक कार्रवाई भी हो चुकी होगी। ऐसे में शिक्षक मंगलवार से टीचिंग करवाएंगे। उधर कुलपति प्रो. एसपी सिंह ने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय ने हमारा नैतिक बल बढ़ाया है। खुद राज्यपाल व कुलाधिपति राम नाईक घटना की पूरी रिपोर्ट ले रहे हैं और इस पर काफी गंभीर हैं। ऐसे में हमें शासन-प्रशासन पर भरोसा और आम छात्रों के हितों का ध्यान रखते हुए काम पर लौटना होगा। सभी कार्यालय शनिवार को खुलेंगे और सुबह 11 बजे नए शैक्षिक सत्र की तैयारी के लिए विभागाध्यक्ष व डीन की बैठक होगी। इसमें सभी विभागों को टाइम टेबल लेकर आने के निर्देश दिए गए हैं। डिग्री कॉलेजों में आज से शुरू होगी काउंसिलिंग

लविवि से संबद्ध डिग्री कॉलेजों में शुक्रवार को कार्य बहिष्कार का असर रहा। केकेसी, कालीचरण पीजी कॉलेज और डीएवी कॉलेज सहित कई कॉलेजों में स्नातक व परास्नातक कोर्स की काउंसिलिंग बंद रही। प्राचार्य परिषद के अध्यक्ष डॉ. एसडी शर्मा ने कहा कि अब शनिवार से कॉलेजों में काउंसिलिंग शुरू होगी, क्योंकि हमने एक दिन की सांकेतिक हड़ताल की घोषणा की थी। फिलहाल कॉलेजों में शुक्रवार को सन्नाटा रहा। नेशनल पीजी कॉलेज में ओरिएंटेशन प्रोग्राम था उसे स्थगित कर दिया गया। शिक्षकों व शिक्षणेतर कर्मचारियों की बैठक में घटना की निंदा की गई। बंद रहा कैंपस, बैरंग लौटे विद्यार्थी

लविवि व डिग्री कॉलेजों में बंद का असर देखने को मिला। विश्वविद्यालय में स्टूडेंट काम लेकर आए लेकिन लौट गए। कुछ विद्यार्थी कैंपस खुलने की जानकारी भी लेने पहुंचे लेकिन पूरी तरह सन्नाटा पसरा हुआ था। स्टूडेंट सिंगल विंडो, कैशियर कार्यालय और परीक्षा विभाग में कामकाज पूरी तरह प्रभावित रहा। छावनी में तब्दील हुआ कैंपस

लविवि शुक्रवार को पूरी तरह छावनी में तब्दील दिखा। एएसपी, सीओ, नगर मजिस्ट्रेट के साथ-साथ पूरे कैंपस में पुलिसकर्मी तैनात रहे। कैंपस में पूरी तरह सन्नाटा छाया हुआ था।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV