देश

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत दोनों जंग जीतने जा रहा है: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोरोना के हालातों को लेकर तमाम मसलों पर जवाब दिए. उन्होंने दिल्ली में कोरोना के मामलों से निपटने के लिए केंद्र सरकार के प्रयासों को बताया. उन्होंने बताया कि वह रोजाना कोरोना की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जानकारी देते हैं.

Loading...

समाचार एजेंसी को दिए इंटरव्यू में गृह मंत्री अमित शाह ने ये बात कही. दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 31 जुलाई तक दिल्ली में कोरोना के 5.5 लाख केस हो जाने का अनुमान जताया था. वहीं अमित शाह ने कहा कि मुझे भरोसा है कि हम इस स्थिति में नहीं पहुंचेगे. हम इससे काफी बेहतर स्थिति में होंगे क्योंकि हमने निवारक उपायों पर जोर दिया है.

अमित शाह ने कहा कि दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री ने सार्वजनिक तौर पर कहा कि दिल्ली में 31 जुलाई तक कोरोना के साढ़े पांच लाख मामले हो जाएंगे और उनके पास व्यवस्था की कमी है. इससे स्थिति थोड़ी पैनिक हो गई थी, लेकिन अब मुझे भरोसा है कि अब यह स्थिति नहीं आएगी क्योंकि कोरोना होने से पहले हमने उसे रोकने के उपायों पर जोर दिया है.

गृह मंत्री ने कहा कि आज की तारीख में दिल्ली में कम्युनिटी ट्रांसमिशन की स्थिति नहीं है. चिंता करने की कोई बात नहीं है. उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना से निपटने के लिए केंद्र, राज्य सरकार और एमसीडी तीनों मिलकर काम कर रही हैं.

कोरोना संकट और पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ तनाव पर अमित शाह ने कहा कि मैं एक बात स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत दोनों जंग जीतने जा रहा है.

अमित शाह ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के टेस्ट चार गुना बढ़ाए गए हैं. दिल्ली में प्रतिदिन 16 हजार टेस्ट हो रहे हैं. राजधानी में कम्युनिटी स्प्रेड नहीं हुआ है. कोरोना से घबराने की जरूरत नहीं है. इसे बेकार में तूल दिया जा रहा है.

अमित शाह ने कहा कि 14 तारीख को कॉर्डिनेशन की बैठक की. दिल्ली सरकार, एमसीडी और भारत सरकार के बीच समन्वय के लिए ये बैठक जरूरी थी. भारत सरकार इसमें बहुत मदद कर सकती है. कई विशेषज्ञों की मदद ली जा सकती है. इसलिए कोरोना के खिलाफ व्यापक अभियान के लिए हमने ये बैठक की.

गृह मंत्री ने कहा कि आज मैं कह सकता हूं कि दिल्ली के डिप्टी सीएम का जो 5.5 लाख कोरोना केस वाला जो बयान था, वो स्थिति अब दिल्ली में नहीं आएगी. दिल्ली में 30 जून तक कंटेनमेंट जोन के हर घर का सर्वेक्षण हो जाएगा. बाद में दिल्ली में घर-घर सर्वेक्षण किया जाएगा.

शाह ने कहा कि हमने दिल्ली सरकार को तत्काल 500 ऑक्सीजन सिलेंडर, 440 वेंटिलेटर दिए हैं. एंबुलेंस के लिए दिल्ली सरकार को कहा है कि प्राइवेट कंपनियों के साथ मिलकर आप इनकी जरूरत पूरी कर सकते हैं. हमने 3 टीमों का गठन किया, जिसमें दिल्ली सरकार के और एम्स के डॉक्टर हैं, और आईसीएमआर के विशेषज्ञ हैं. उन्होंने सभी जगह की कमियों को ठीक करने का हर प्रयास किया है.

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV