उत्तराखंडप्रदेश

अजीब तरह का माहौल पैदा न करें हरीश रावत: इंदिरा हृदयेश

पूर्व सीएम हरीश रावत व नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश के बीच राजनीतिक खींचतान कम होती नहीं दिख रही है। नेता प्रतिपक्ष ने अपने आवास पर पत्रकार वार्ता के दौरान एक बार फिर हरीश रावत पर कटाक्ष करते हुए कहा, उन्हें प्रदेश में अजीब तरह का माहौल नहीं पैदा करना चाहिए। 

Loading...

उन्होंने कहा कि हरीश रावत सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात रखने के बजाय सीधे प्रभारी से बात करें। कांग्रेस ने उन्हें सबकुछ दिया है। अभी उनकी और पाने की इच्छा है तो प्रभारी महोदय के सामने अपनी बात रख सकते हैं। उन्होंने रावत की आम पार्टी पर भी तंज कसा। 

कैसी सरकार, सड़कों के गड्ढे तक नहीं भर पा रही 

डॉ. इंदिरा ने त्रिवेंद्र सरकार पर व्यंग्य कसते हुए कहा, यह कैसी सरकार है, जो सड़कों के गड्ढे तक नहीं भरवा पा रही है। लोग सड़क, बिजली, पानी के लिए तरस रहे हैं। सरकार कोई काम नहीं कर रही है। विकास का नारा देने वाली सरकार ने आइएसबीटी की फाइलों को भी कूड़े में डाल दिया है। अंतरराष्ट्रीय जू का निर्माण ठप है। अब भाजपा विधायकों ने अपनी ही सरकार की खुली आलोचना शुरू कर दी 

उन्होंने कहा, हल्द्वानी में बरसात में कूड़े से महामारी फैलने का खतरा पैदा हो गया है। इसे दुरुस्त करने की किसी को चिंता नहीं है। अतिक्रमण के नाम पर राज्य के जनता का उत्पीड़न किया जा रहा है। यह सरकार कहीं से भी न्याय नहीं दिलवा पा रही है। 

भाजपा से नहीं चाहिए हिंदू होने का प्रमाण 

इंदिरा ने कहा, पीएम मोदी ने बयान दिया है, कांग्रेस मुस्लिम महिलाओं की चिंता करें। जबकि, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने महिला आरक्षण बिल सदन में लाने का अनुरोध किया है। मोदी इस बिल को पास कर महिलाओं की प्रशंसा का पात्र बनें। देश में उच्च पदों पर बैठे लोग केवल हिंदू-मुस्लिम का राग अलाप रहे हैं। इस देश के हिंदू को भाजपा से हिंदू होने का प्रमाण पत्र नहीं चाहिए।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV