Main Slideदेश

तेलंगाना में पुजारियों को मिलेगी सरकारी खजाने से सैलरी, इमाम-मुअज़्ज़िनों को मिलेंगे 5000 रुपये

तेलंगाना सरकार ने राज्य के मंदिरों में पुजारियों को सरकारी कर्मचारी के बराबर, तो वहीं इमाम और मुअज़्ज़िनो को 5,000 रुपये सैलरी देने का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने बताया कि यह नियम 1 सितंबर से लागू होगा. राज्य के कोष से यह वेतन दिए जाएंगे. इतना ही नहीं जब भी सरकारी कर्मचारियों की सैलरी में कोई बदलाव होगा तो वही ‘अर्चकों’ पर भी लागू होगा.

Loading...

अर्चक, हिन्दू मंदिरों में पूजा कराते हैं और धर्म विभाग नियम के तहत आते हैं. राव ने कहा कि इनके रिटारयमेंट की उम्र 58 की जगह 65 साल होगी. मुख्यमंत्री ने कहा इमाम और मुअज़्ज़िनो को 1 सितंबर से पांच हजार रुपए दिए जाएंगे. तेलंगाना सरकार इससे पहले उन्हें एक हजार रुपए देती थी. इसके बाद इसे बढ़ाकर पंद्रह सौ रुपये कर दिया गया था. वहीं बीते दिनों मुख्यमंत्री ने ऐलान किया था कि हर अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों को उनके घरेलू उपयोग के लिए 101 यूनिट तक फ्री बिजली दी गई, यह पहले 50 यूनिट था.

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close