प्रदेशबिहार

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए नीतीश कुमार

Loading...
पूरे देश में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की धूम है. सुबह से ही जगह-जगह पर योग शिविर का आयोजन किया गया है. बिहार में भी कई जगहों पर योग शिविर लगाए गए. पटना स्थित पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कॉमप्लेक्स में बिहार सरकार के कला और संस्कृति विभाग की तरफ से योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में बिहार के राज्यपाल सतपाल मलिक, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित कई बीजेपी नेता शामिल हुए. वहीं, इस कार्यक्रम से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जेडीयू कोटे के मंत्रियों और नेताओं ने दूरी बनाए रखा.

दूसरी ओर योग दिवस के मौके पर हाजीपुर के जीए स्कूल में आयोजित योग कार्यक्रम में केंद्रीय खाद्य आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान और केंद्रीय राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा शामिल हुए. इस दौरान रामविलास पासवान ने लोगों से स्वस्थ रहने के लिए योग को अपनाने के लिए कहा.

नीतीश कुमार के योग कार्यक्रम में शामिल नहीं होने पर सुशील मोदी ने कहा कि योगस्थल पर आकर योग करना कोई जरूरी नहीं है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार भी घर में योग करते हैं. उन्होंने कहा कि योग को राजनीतिक चश्मे से नहीं देखा जाना चाहिए. ज्ञात हो कि पिछले वर्ष भी नीतीश कुमार और उनकी पार्टी योग दिवस कार्यक्रम से दूर रही थी.

इस मामले पर राज्यसभा सांसद और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि जेडीयू की स्थति साफ नहीं है. उन्होंने कहा कि जेडीयू के अंदर भगदड़ वाली नौबत है. कभी किसी कार्यक्रम में शिरकत करते हैं, तो कभी नही. आरजेडी नेता ने कहा कि जेडीयू में अस्तित्व का संकट है. 

वहीं, योग के मामले पर मनोज झा ने कहा कि योग से नाराजगी नहीं है, लेकिन योग के नाम पर तमाशा हो रहा है. पीएम ऐसा योग करें, जिससे किसानों की आत्महत्या रुके, रोजगार मिले, देश में अमन शांति हो. उन्होंने कहा कि बीजेपी टेंट-शामियाना वाली पार्टी है. अपने मंत्रियों से उठक-बैठक करवाती है

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close