दिल्ली एनसीआरप्रदेश

डेढ़ साल की मासूम को हुई उल्टी-दस्त तो ले गए क्लिनिक, इंजेक्शन लगाते ही निकल गई जान

जारचा कोतवाली क्षेत्र के प्यावली गांव में उल्टी-दस्त से पीड़ित डेढ़ साल के मासूम बच्चे की झोलाछाप के इंजेक्शन से मौत हो गई। परिजनों ने क्लीनिक पर हंगामा किया और डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है।

Loading...

पुलिस ने बताया कि प्यावली गांव में रहने वाले मजदूर अमित कुमार की शादी तीन साल पहले हुई थी। शनिवार सुबह उसके डेढ़ साल के बेटे अरुण को उल्टी-दस्त हुए। वह गांव में झोलाछाप डाक्टर नरेश के पास उसे दिखाने ले गया। डाक्टर ने बच्चे को क्लीनिक में भर्ती कर ग्लूकोस चढ़ाया।

दो घंटे बाद उसे छुट्टी दे दी, लेकिन शाम तक भी अरुण को आराम नहीं हुआ। शाम को वह बहन गुड्डी के साथ अरुण को लेकर फिर क्लीनिक पहुंचा तो डाक्टर ने अरुण को इंजेक्शन लगाया। इसके बाद उसने घर जाने को कहा। अमित के मुताबिक, घर के रास्ते में ही अरुण ने दम तोड़ दिया।

इसके बाद वे फिर डॉक्टर के पास पहुंचे और हंगामा किया। इसके बाद उन्होंने डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस डाक्टर को हिरासत मे लेकर पूछताछ कर रही है। अमित का आरोप है कि अरुण के इलाज के दौरान डाक्टर ने नकली ग्लूकोज चढ़ाया था।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close