Main Slideदेश

मानसरोवर यात्रा के बीच राहुल ने कहा- जिसका बुलावा आता है, वही जाता है कैलाश

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को सोशल मीडिया पर मानसरोवर झील की तस्वीरें शेयर कर कहा कि यहां कोई द्वेष नहीं है।

Loading...

गांधी ने ट्विटर पर मानसरोवर झील की कुछ तस्वीरें शेयर कीं और कहा, ‘मानसरोवर झील का पानी बहुत मंद और शांत है। वो सब कुछ देता है और कुछ नहीं खोता। कोई भी यहां का पानी पी सकता है। यहां द्वेष नहीं है। यही कारण है कि हम भारत में इस पानी की पूजा करते हैं।’ 

इससे पहले उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘ जब बुलावा आता है तब कोई व्यक्ति कैलाश जाता है। मैं इस बात से बहुत प्रसन्न हूं कि मुझे यह अवसर मिला और इस सुंदर यात्रा में जो देखूंगा उसे आप लोगों के साथ साझा कर सकूंगा।’ 

वह गत 31 अगस्त को इस यात्रा के लिए नेपाल रवाना हुए थे जहां से उन्होंने कैलाश के लिए प्रस्थान किया।

दिल्ली से नेपाल के लिए रवाना होने से पहले गांधी ने ट्वीट के जरिये कहा था, 

“ॐ असतो मा सद्गमय।

तमसो मा ज्योतिर्गमय।

मृत्योर्मामृतम् गमय।

ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति: ॥’ 

दरअसल कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी के विमान में अचानक तकनीकी खराबी आ गई थी और वह कई हजार फुट नीचे आ गया था। इसके बाद उन्होंने दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित कांग्रेस की रैली में इस घटना का जिक्र करते हुए कहा था कि उन्होंने कैलाश मानसरोवर यात्रा का संकल्प लिया है।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close