Main Slideउत्तराखंडप्रदेश

यहां पकड़ी गई ब्रांडेड कंपनियों के नाम से नकली दवाईयों की इतनी बड़ी खेप, हैरानी में पड़े अधिकारी

ब्रांडेड कंपनियों के नाम से यहां इतनी ज्यादा संख्या में नकली दवाईयां बनाई जा रही थी कि छापेमारी करने गए अधिकारियों के भी होश उड़ गए। उत्तर प्रदेश औषधि विभाग के निरीक्षकों की टीम ने स्थानीय अधिकारियों के साथ मिलकर रुड़की के गंगनहर क्षेत्र में छापेमारी कर नकली दवा बनाने की दो फैक्ट्रियां, दो गोदामों से करोड़ों की नकली दवाएं, मशीनें, ब्रांडेड कंपनियों के रैपर बरामद किए। इस दौरान टीम ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

Loading...

नकली दवाओं को यहां से देश के विभिन्न शहरों में सप्लाई की जा रही थी। यूपी के तीन जिलों के औषधि विभाग के निरीक्षकों ने हरिद्वार के औषधि निरीक्षक नीरज कुमार, पौड़ी के औषधि निरीक्षक सुधीर कुमार और पुलिस टीम के साथ पनियाला रोड स्थित शिवपुरम गली नंबर पांच व ढंडेरा में छापेमारी कर नकली दवा बनाने की फैक्ट्री पकड़ी।

इसके बाद टीम ने सलेमपुर राजपुताना और सैनिक कालोनी स्थित फै क्ट्री के गोदामों से मशीनें, मल्टीनेशनल कंपनी के रैपर और भारी मात्रा में नकली दवाएं बरामद की। सभी दवाएं ब्रांडिड कंपनी के रैपर में थी। टीम ने मशीन व सभी दवा पुलिस की सुपुर्दगी में दे दी हैं।
अमरोहा क्षेत्र में कई माह पूर्व नकली दवा का जखीरा पकड़ा था। पकड़े गए चार लोगों ने रुड़की से नकली दवा खरीदने की बात कुबूली थी। उसके बाद यूपी के खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन आयुक्त के निर्देश पर रुड़की में कार्रवाई की गई। सूचना मिली है हरिद्वार जनपद में कई स्थानों पर नकली दवा अब भी बनाई जा रही हैं।        
नरेश मोहन दीपक, औषधि निरीक्षक, मुरादाबाद 
Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close