LIVE TVMain Slideदेशव्यापार

मुकेश अंबानी की पड़ी नजर अब क्विक सर्विस रेस्टोरेंट बिजनस पर

ग्रॉसरी, एड-टेक, म्यूजिक, ई-फार्मेसी, पेमेंट्स, फैशन और फर्नीचर के बाद मुकेश अंबानी की नजर अब क्विक सर्विस रेस्टोरेंट बिजनस पर है। सूत्रों के मुताबिक मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली देश की सबसे मूल्यवान कंपनी

Loading...

रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की सबसे बड़ी सिंगलब्रांड रेस्टोरेंट चेन सबवे इंक की भारतीय फ्रेंचाइजी को खरीदने के लिए बातचीत कर रही है। यह सौदा 20 से 25 करोड़ डॉलर यानी 1,488 से 1,860 करोड़ रुपये का हो सकता है।

अगर यह बातचीत मुकाम पर पहुंचती है तो इससे रिलायंस इंडस्ट्रीज की रीटेल यूनिट को पूरे भारत में सबवे के करीब 600 स्टोर मिलेंगे और उसे अपने कारोबार को फैलाने में मदद मिलेगी। क्यूएसआर मार्केट में रिलायंस रीटेल की एंट्री से उसका मुकाबला

Domino’s Pizza, Burger King, Pizza Hut और Starbucks तथा उनके लोकल पार्टनर्स Tata Group और JubilantGroup से होगा। जानकारों के मुताबिक प्राइवेट इक्विटी कंपनियां भी सबवे की लोकल फ्रेचाइजी ऑपरेशंस को खरीदने की कोशिश में हैं।

सैंडविच बनाने वाली कंपनी Subway Inc का मुख्यालय अमेरिका के कनेक्टीकट में है। कंपनी भारत में कई रीजनल मास्टर फ्रेंचाइजी के जरिए बिजनस करती है। दुनियाभर में कंपनी रिस्ट्रक्चरिंग कर रही है।

इस बारे में ईटी ने जब कंपनी की प्रतिक्रिया पूछी तो उसका कहना था कि वह मौजूदा या संभावित फ्रेंचाइजी के बारे में टिप्पणी नहीं करती है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भी उसे भेजे गए ईमेल का जवाब नहीं दिया।

डाबर के प्रमोटर अमित बर्मन की Lite Bite Foods इनमें शामिल है। सबवे का मालिकाना हक Doctor’s Associates के पास है। यह कंपनी हर फ्रेंचाइजी से 8 फीसदी रेवेन्यू लेती है।

भारत 18,800 करोड़ रुपये के संगठित QSR में इसकी 6 फीसदी हिस्सेदारी है। 21 फीसदी हिस्सेदारी के साथ डोमिनोज मार्केट लीडर है। मैकडॉनल्ड 11 फीसदी हिस्सेदारी के साथ दूसरे नंबर पर है।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV