LIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशदेशसाहित्य

उत्तर प्रदेश के स्कूल के विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों को लेकर योगी आदित्यनाथ ने किया बड़ा बयान

यूपी सरकार ने विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के लिए सभी स्कूलों और माध्यमिक विद्यालयों में आरोग्य वाटिका स्थापित करने का निर्देश दिया है।

Loading...

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के निर्देश पर यह निर्णय लिया गया जिनके पास माध्यमिक शिक्षा विभाग का प्रभार भी है। शर्मा ने कहा, हमने राज्य के सभी माध्यमिक विद्यालयों में आरोग्य वाटिका स्थापित करने का फैसला किया है।

इससे न केवल पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी बल्कि औषधीय पौधों के उपयोग से विद्यार्थियों और उनके परिवारों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और कल्याण में मदद मिल सकती है।

शर्मा ने कहा, आरोग्य वाटिका का विचार स्थानीय पत्रकार सुधीर मिश्रा के दिमाग की उपज है, जो अपने अखबार की मदद से उद्यानों, पुलिस थानों, स्कूलों और अन्य स्थानों पर इस तरह के बगीचे को विकसित करने का अभियान चला रहे हैं।

मिश्रा ने बताया कि पिछले दो वर्षों से वह औषधीय पौधों वाले इस तरह के बगीचे को विकसित करने के लिए अभियान चला रहे थे और जिला प्रशासन, पुलिस और मंत्रियों को अभियान में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था।

पिछले महीने इसी तरह के एक अभियान के दौरान उप मुख्यमंत्री शर्मा को यह विचार पसंद आया और उन्होंने इसे राज्य के सभी माध्यमिक विद्यालयों में लागू करने की घोषणा की।

इस संबंध में अब शिक्षा निदेशक विनय कुमार पांडेय द्वारा एक आदेश जारी कर सभी जिला विद्यालयों के निरीक्षकों को औषधीय पौधे लगाने के लिए आरोग्य वाटिका स्थापित करने के लिए जगह की पहचान करने का निर्देश दिया गया है।

आदेश में कहा गया है, तुलसी, गिलोय, अश्वगंधा, स्टीविया, आंवला, अमरूद, हल्दी, चंदन, सहजन और कई अन्य पौधों को लगाया जाना चाहिए क्योंकि वे प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV